Friday, December 9, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh News55 आपदा मित्रों को प्रशिक्षण हेतु लखनऊ के लिए एडीएम न्यायिक ने...

55 आपदा मित्रों को प्रशिक्षण हेतु लखनऊ के लिए एडीएम न्यायिक ने हरी झंडी दिखाकर किया रवाना

- Advertisement -

जनवाणी ब्यूरो |

बलरामपुर: राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण गृह मंत्रालय भारत सरकार द्वारा संचालित आपदा मित्र योजना के तहत जिले के 55 आपदा मित्रों को शनिवार को 12 दिवसीय आवसीय प्रशिक्षण हेतु लखनऊ रवाना किया गया। जिलाधिकारी डॉ0 महेन्द्र कुमार के निर्देश पर अपर जिलाधिकारी न्यायिक डॉ ज्योति गौतम ने कलेक्ट्रेट से आपदा मित्रों को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया।

बताते चलें कि राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण गृह मंत्रालय भारत सरकार द्वारा प्रदेश के  25 जनपदों में आपदा मित्र योजना संचालित की जा रही है। जिसमें जनपद बलरामपुर भी शामिल है। इय योजना के तहत जिले के 300 आपदा मित्रों को आपदा प्रबंधन का प्रशिक्षण दिया जाना है।

जिला आपदा विशेषज्ञ अरूण सिंह ने बताया कि विगत वर्ष जिले के 154 आपदा मित्रों को प्रशिक्षण दिया जा चुका है तथा दूसरे बैच में शनिवार को 55 आपदा मित्रों को प्रशिक्षण हेतु एसडीआरएफ कैंप बिजनौर लखनऊ के लिए रवाना किया गया है जहां पर राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण गृह मंत्रालय भारत सरकार एवं राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण उ0प्र्र0 के संयुक्त तत्वाधान में 20 नवम्बर से 12 दिवसीय आवासीय प्रशिक्षण दिया जाएगा।

उन्होंने बताया कि आपदा मित्र योजना के माध्यम से प्राकृतिक आपदा में होने वाले कारणों से लोगों को बचाया जाएगा। योजना के तहत प्राकृतिक आपदा से होने वाले कारण जैसे की बारिश, बाढ़, बादल फटना, ओले पड़ना, अग्निकाण्ड, भूकम्प, भूस्खलन तथा अन्य आपदाओं से त्वरित गति से निपटने में मदद मिलेगी। ज्ञातव्य है कि प्राकृतिक आपदा आने के कारण लोग आपदा में फंसे रह जाते हैं उनकी मदद के लिए लोगों को पहुंचने में काफी देरी हो जाती है, इस कारण सरकार द्वारा आपदा मित्र योजना को लागू किया गया।

आपदा के दौरान गांव में प्रशिक्षित आपदा मित्र एक कॉल पर ही आपदा के स्थान पर पहुंच जाएगा तथा वहां फंसे लोगों को सुरक्षित रूप से निकालने में मदद करेेगा। श्री सिंह ने बताया कि प्रशिक्षण में प्रतिभाग करने वाले आपदा मित्रों को आपदा किट, प्रशिक्षण प्रमाण पत्र तथा अध्ययन सामग्री भी दी जाएगी और सभी आपदा मित्रों का 05 लाख रूपए का बीमा भी सरकार द्वारा किया जाएगा। उन्होंने बताया कि आपदा के दौरान राहत एवं बचाव कार्य के साथ ही जागरूकता कार्यक्रमों में भी आपदा मित्रों का सहयोग लिया जाएगा।

आपदा मित्रों को रवाना करने के दौरान जिला आपदा विशेषज्ञ अरूण सिंह, आपदा लिपिक राजेश कुमार, एसीआरए प्रवीण पाण्डेय, एसडीआरएफ के प्रशांत त्रिपाठी व अन्य उपस्थित रहे।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments