Friday, April 23, 2021
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsShamliघसौली में हुए हमले में घायल दूसरी महिला की भी मौत

घसौली में हुए हमले में घायल दूसरी महिला की भी मौत

- Advertisement -
0
  • मुखबिरी के शक में हुए विवाद में घर पर किया हमला
  • एक महिला की मंगलवार रात ही गोली लगने से हुई थी मौत
  • पुलिस ने हत्याकांड में शामिल दो महिलाओं समेत चार पकड़े

जनवाणी संवाददाता |

कांधला: क्षेत्र के गांव इस्लामपुर घसौली में मुखबिरी के शक में मंगलवार की देर रात हुए झगडे में घायल दूसरी महिला की भी उपचार के दौरान मौत हो गई। इससे पहले एक महिला की मौत मंगलवार की देर रात को हो गई थी। परिजनों ने शवों का गमगीन माहौल में अंतिम संस्कार कर दियाा। इस मामले में पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं तनाव के चलते गांव में पुलिस और पीएसी बल तैनात कर दिया गया है।

मंगलवार की देर रात्रि सहेन्द्र का सतपाल के साथ विवाद हो गया था। था। जिसके बाद सतपाल पक्ष के लोगों ने एक जुट होकर सहेन्द्र के घर पर हमला बोल दिया था। जिसमें दोनों और से लाठी डंडे व धारधार हथियारों के साथ जमकर पथराव हुआ था। सतपाल पक्ष ने हमले के दौरान सहेन्द्र के मकान के गेट आदि भी तोड़ दिए थे।

वहीं फायरिंग में गोली में गजना पत्नी चंद्रपाल की मौके पर ही मौत हो गई थी। वहीं ललतेश पत्नी ओमबीर की आंख में भाला घोंप दिए जाने से वह गंभीर रूप से घायल हो गई थी। सूचना पर घायलों को सीएचसी कांधला में भर्ती कराया गया था। जहां से ललतेश की नाजुक हालत को देखते हुए मेरठ में भर्ती कराया गया था, जहां उपचार के दौरान उसकी भी मौत हो गई थी।

दो महिला की मौत से परिवार में कोहराम मचा हुआ है। पोस्टमार्टम के बाद गजना का शव बुधवार को गांव में पहुंचा जहां गमगीन माहौल में अंतिम संस्कार कर दिया गया। वहीं ललतेश का शव मेरठ में पोस्टमार्टम के बाद घर लाया जाएगा।

इस मामले में चन्द्रपाल की तहरीर पर प्रमोद पुत्र रविन्द्र, भोला उर्फ सुधीर पुत्र धारा, सतपाल पुत्र रतना, जितेन्द्र उर्फ रामफल, यशपाल उर्फ गुरूजी पुत्र रतना, रोमियो, उषा व बबीता के खिलाफ तहरीर दी गई थी। जिसके बाद पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ 147, 148, 149, 302, 307, 504 व धारा 84 के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया था। पुलिस अधीक्षक सुकीर्ति माधव घटना की गंभीरता को देखते हुए कड़ी कार्रवाई के निर्देश देते हुए टीम गठित की।

इस मामले में बुधवार को कांधला पुलिस ने एक सूचना पर ऊषा पत्नी रविंद्र, बबीता पत्नी उधा, भौला उर्फ सुधीर पुत्र धारा सिंह और सतपाल पुत्र रतना निवासी इस्लामपुर घसौली थाना कांधला को गिरफ्तार कर लिया। वहीं फरार आरोपियों की गिरफ्तारी को दबिश दी जा रही है।

मुखबिरी के शक में दिया हत्याकांड को अंजाम

पुलिस अधीक्षक सुकीर्ति माधव ने बताया कि हरियाणा राज्य के जनपद करनाल के मधुबन थाना क्षेत्र के गांव रांवर में 22 मार्च 2021 को सुल्तान की हत्या के संबंध में मुकदमा दर्ज किया गया था। जिसमें गांव इस्लामपुर घसौली निवासी चंद्रपाल के रिश्तेदार धर्मवीर आदि नामजद किए गए थे। थाना मधुबन पुलिस ने मुकदमें में नामजद अभियुक्तों के गांव इस्लामपुर घसौली में छिपे होने की जानकारी पर यहां दबिश दी थी।

इस दबिश को लेकर चंद्रपाल पक्ष ने भी विपक्षी प्रमोद आदि पर मुखबिरी किए जाने का आरोप लगाया था। जिसको लेकर दोनों पक्षों में मंगलवार की रात को विवाद के बाद झगडा हो गया था जिसके हत्या जैसा जघन्य अपराध कारित किया गया। उधर, मृतका ललतेश के पति ओमबीर ने बताया कि इसी साल जनवरी माह में पुलिस ने सतपाल पक्ष के हरेंद्र व धारा को शराब की तस्करी करते समय दो पेटी शराब के साथ गिरफ्तार किया था।

जिसमें सतपाल पक्ष को शक था कि शराब ब्रिकी की मुखबिरी ओमबीर पक्ष ने की है। जिसको लेकर उस समय विवाद हुआ था। तब पुलिस ने कार्रवाई करते हुए सतपाल पक्ष से किरणपाल, ओमा, रामफल, सुधीर, हरेन्द्र, धारा, प्रमोद, यशपाल, छोटा, रोमियो, सतपाल, यशपाल उर्फ गुरुजी, पट्टू, सूरज, संतोष, कमलेश व उषा तथा ओमबीर पक्ष से कमलेश, छोटी, ओमबीर व चन्द्रपाल को शांति भंग की धारा में जेल भेज दिया था। जमानत पर छूट कर आने के बाद दोनों पक्षों का कई बार आमना सामना हो चुका था। जिसमें कई बार पंचायतें भी हुई थी लेकिन कोई हल नहीं निकल सका था।

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments