Sunday, January 23, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeCoronavirusकोरोना: बेहतर रिकवरी रेट ने जताई उम्मीद

कोरोना: बेहतर रिकवरी रेट ने जताई उम्मीद

- Advertisement -
  • ठीक होने वालों की तादाद में गुरुवार को हुई बढ़ोतरी, कोरोना संकट के बीच मिली राहत

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: गुरुवार को कोरोना को मात देकर ठीक होने वालों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है। कोरोना संकट के बीच यह एक राहत देने वाली बात है। जहां बुधवार को 55 मरीज ठीक होकर घर गए थे, वहीं, गुरुवार को 90 मरीजों को ठीक होने के बाद अस्पताल से घर भेज दिया गया है।

कोरोना से स्वस्थ होने वालों के बेहतर रिकवरी रेट ने एक उम्मीद जताई है कि यह फ्लू ज्यादा समय टिकने वाला नहीं है। इस बार दूसरी लहर की तरह वायरस की घातकता में कमी है, जो भविष्य के लिए बेहतर संकेत हैं। इतना ही नहीं इस बार रिकवरी रेट का बेहतर होना और आॅक्सीजन लेवल का नहीं गिरने संकट के दौरान सुखद अहसास कराने वाली बात है। डा. अशोक तालियान का कहना है कि जिन मरीजों ने रिकवरी की है, उनमें अधिकर एक सप्ताह पहले भर्ती होने वालों की संख्या अधिक है।

कुछ मरीज ऐसे हैं, जिसमें कोरोना की पुष्टि हुई है, मगर वह अन्य बीमारियों से ग्रसित हैं। उनकी रिकवरी में थोड़ा अधिक समय लग सकता है। 90 लोगों का एक साथ रिकवरी करना बेहतर उम्मीद जगाता है। ज्यादा गंभीर हालत में दिखने वाले मरीजों को ही अस्पताल में भर्ती किया जा रहा है। गुरुवार को भर्ती नए मरीजों की संख्या 37 रही।

बच्चों में बढ़ रहा संक्रमण 113 और संक्रमिण मिले

तीसरी लहर में बच्चे बड़ी संख्या में कोरोना संक्रमित मिल रहे हैं। बुधवार को जहां 83 केस सामने आए थे, वहीं, गुरुवार को यह संख्या और बढ़कर 113 पहुंच गई। अब तक करीब 300 बच्चों में संक्रमण की पुष्टि हो चुकी है। बीते मंगलवार को 63 संक्रमित मिले थी और सोमवार में103 केस आए थे। स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट में 18 वर्ष से कम आयु वालों को बच्चे की श्रेणी मे रखा गया है। गुरुवार को कुल संक्रमितों में 409 महिला और 710 पुरुष मिले हैं।

फिर टॉप पर आया जयभीम नगर, नंगला बट्टू

शहर में संक्रमितों का सबसे बड़ा इलाका गुरुवार को फिर से जयभीमनगर रहा। यहां कोरोना के 103 केस मिले हैं। वहीं, दूसरे स्थान पर 93 मामलों के साथ नंगला बट्टू आया। बुधवार को सबसे अधिक संक्रमित कंकरखेड़ा क्षेत्र में 113 मिले थे। पल्हेड़ा 99 केस के साथ दूसरे नंबर पर रहा। इसके अलावा राजेन्द्र नगर 76, पुलिस लाइन 74, रजबन 68, साबुन गोदाम 65, संजय नगर 59, कुंडा 49, कैं ट 43, रजपुरा 39, जाकिर कालोनी 37, कंकरखेड़ा 37 और पल्हेड़ा 32 रहे। वहीं, देहात क्षेत्र के दौराला में सर्वाधिक 32 केस मिले।

एक जज और छह कर्मचारी हुए कोरोना पॉजिटिव

कोविड-19 के प्रकोप एवं फैलाव को देखते हुए गत मंगलवार को जनपद न्यायालय परिसर मेरठ के 14 न्यायालय भवन में प्रथम तल पर स्थित मीटिंग हॉल में 88 न्यायिक अधिकारी व कर्मचारियों की कोविड-19 की टेस्टिंग चिकित्सा विभाग द्वारा की गई थी। गुरुवार को आई रिपोर्ट में एक न्यायिक अधिकारी सीजेएम व छह कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। जिला जज रजत सिंह जैन ने दीवानी न्यायालय 14 जनवरी शुक्रवार को कचहरी परिसर को सैनिटाइजर करने के लिए बंद के आदेश दिए हैं।

जिला जज ने बताया कि एक न्यायिक अधिकारी व छह कर्मचारियों के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने पर सीएमओ मेरठ ने अपनी आख्या दी है कि कचहरी को सैनिटाइजर करने के लिए एक दिन का अवकाश किया जाए। जिससे दीवानी न्यायालय परिसर सही तरीके से सैनिटाइज किया जा सके। जिला जज ने 14 जनवरी शुक्रवार का अवकाश घोषित कर दिया है। सिविल जज मवाना एवं सिविल जज के न्यायालय यथावत खुले रहेंगे।

थम नहीं रही कोरोना की रफ्तार 1119 संक्रमित मिले, एक और मौत

जनपद में कोरोना की रफ्तार थमने का नाम नहीं ले रही है। गुरुवार को बुधवार की तरह ही बड़ी संख्या में संक्रमित सामने आए हैं। सैंपल की जांच बढ़ने के साथ ही संक्रमितों की संख्या भी बढ़ रही है। बुधवार को जहां 1212 नए मामले मिले थे, वहीं, गुरुवार को 1119 केस हैं। ऐसी स्थिति में जल्द कोरोना से राहत मिलती नहीं दिख रही। अब कुल सक्रिय मरीज 6252 हो गए हैं। होम आइसोलेशन में 6215 लोग हैं।

गुरुवार को एक और मरीज की मौत के बाद मरने वालों की संख्या सात पहुंच गई है। सर्विलांस अधिकारी डा. अशोक तालियान ने बताया कि गुरुवार को 8270 लोगों के सैंपल की जांच में 1119 की रिपोर्ट में कोरोना की पुष्टि हुई है। बुधवार के मुकाबले जांच में बढ़ोत्ती हुई है, मगर केस कम आए हैं। बुधवार को 1212 संक्रमित मिले थे। गुरुवार को उपचार के दौरान नौचंदी क्षेत्र के एक मरीज की मौत हुई है, जो अन्य कई बीमारियों से ग्रसित था। 8757 लोगों के नए सैंपल जांच को लैब भेजे गए हैं।

उधर, सरधना क्षेत्र में कोरोना का प्रकोप तेजी से फैल रहा है। गुरुवार को सरधना में सबसे अधिक कोरोना केस सामने आए। क्षेत्र में कुल 25 लोग कोरोना पॉजिटिव निकले। जिनमें तीन हिमालय अस्पताल के कर्मचारी व एक सीएचसी पर तैनात एलटी शामिल है। जांच रिपोर्ट आने के बाद स्वास्थ्य विभाग ने सबको होम क्वारंटाइन करा दिया। साथ ही आसपास के इलाकों में 122 लोगों की कोरोना जांच कराई गई।

सरधना में बढ़ते कोरोना केस प्रशासन की चिंता भी बढ़ा रहे हैं। क्षेत्र में रोजाना नए केस सामने आ रहे हैं। गुरुवार को सरधना में सबसे अधिक केस सामने आए। एक दिन पहले जांच के लिए भेजे गए सैंपल की रिपोर्ट आने पर पता चला कि 25 लोग कोरोना पॉजिटिव हैं। जिनमें हिमालय अस्पताल के तीन कर्मचारी, सीएचसी पर तैनात एलटी के अलावा सरधना, कुशावली, बेगमाबाद, खेड़ा आदि गांव के लोग शामिल हैं।

जांच रिपोर्ट आने के बाद स्वास्थ्य विभाग ने सभी को तत्काल होम क्वारंटाइन करा दिया। इसके साथ गुरुवार को स्वास्थ्य विभाग द्वारा कुल 122 लोगों के सैंपल लेकर जांच के लिए भेजे गए। इस संबंध में सीएचसी प्रभारी डा. सचिन कुमार का कहना है कि गुरुवार को 25 केस सामने आए हैं। सबको होम क्वारंटाइन करा दिया गया है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments