Wednesday, December 1, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeUttar Pradesh NewsSaharanpurमहानगर में एमआरएफ सेंटरों पर लगेंगे कम्पैक्टर

महानगर में एमआरएफ सेंटरों पर लगेंगे कम्पैक्टर

- Advertisement -
  • स्वच्छता सर्वेक्षण के लिए अधिकारी कमर कस लें: नगर आयुक्त

जनवाणी संवाददाता |

सहारनपुर: नगर आयुक्त ज्ञानेन्द्र सिंह ने निगम अधिकारियों को एमआरएफ सेंटरों पर जल्दी से जल्दी कॉम्पेक्टर लगाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि कम्पैक्टर लग जाने से पॉलीथिन, प्लास्टिक व कागज आदि के निस्तारण में काफी मदद मिलेगी। उन्होंने एमआरएफ सेंटरों को दुरुस्त करने और डोर टू डोर कूड़ा कलेक्शन में और तेजी लाने के भी निर्देश दिए। उन्होंने अधिकारियों को कहा कि वे स्वच्छता सर्वेक्षण 2021 के लिए कमर कस कर तैयार हो जाएं।

नगरायुक्त ज्ञानेन्द्र सिंह मंगलवार को अधिकारियों के साथ स्वच्छता सर्वेक्षण 2021 के लिए निगम द्वारा की जा रही तैयारियों की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि स्वच्छता सर्वेक्षण शुरू हो चुका है, नंबर वन पर आने के लिए अधिकारी कमर कस लें।

उन्होंने अधिशासी अभियंता निर्माण व संबद्ध अभियंताओं को निर्देश दिये कि जहां-जहां कम्पैक्टर लगाये जाने है वहां तुरंत प्लेट फॉर्म बनवाकर तैयार कराये ताकि जल्द से जल्द कम्पैक्टर लगाकर कूड़ा निस्तारण में तेजी लाये जा सके। गैराज प्रभारी एस बी अग्रहरि ने बताया कि मातागढ़ एमआरएफ सेंटर व पुराना घास कांटा पर एक-एक तथा पुरानी चुंगी पर दो कम्पैक्टर लगाये जाने है।

निर्माण विभाग द्वारा पुरानी चुंगी पर जैसे ही प्लेटफॉर्म तैयार कराया जायेगा तुरंत कम्पैक्टर लगा दिए जायेंगे। इसके अतिरिक्त नगरायुक्त ने एमआरएफ सेंटरों की स्थिति की जानकारी लेते हुए उन्हें दुरुस्त करने के निर्देश दिए। महानगर में निगम के दस एमआरएफ सेंटर हैं जिन्हें स्वच्छता सर्वेक्षण को ध्यान में रखते हुए दुरुस्त कराया जा रहा है। इसके अतिरिक्त शहर से कूड़ा एकत्रित कर जिन ट्रांसफर स्टेशन पर लाया जाना है, उन ट्रांसफार्मर स्टेशनों के संबंध में भी जानकारी ली।

उन्होंने तालाबों की खुदाई और उनके सौंदर्यीकरण के संबंध में जानकारी लेते हुए अधिकारियों को शीघ्रातिशीघ्र उनके एस्टीमेंट बनाने के निर्देश दिए। अधिशासी अभियंता जल कल सुशील सिंघल ने बताया कि 19 तालाबों का एस्टीमेंट बन चुका है, बाकि की पैमाइश की जा रही है। नगरायुक्त ने जलकल व निर्माण विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि दोनों विभागों के एक-एक जेई टीम बनाकर पैमाइश के काम को तेजी से निपटाएं।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments