Saturday, December 4, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeUttar Pradesh NewsMeerutकॉलेजों में प्रवेश और हॉस्टल में रहने के लिए पहले स्वीकृति की...

कॉलेजों में प्रवेश और हॉस्टल में रहने के लिए पहले स्वीकृति की जरूरत

- Advertisement -
  • विवि और कॉलेजों में लगातार निकल रहे कोरोना के केस

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: कोविड-19 संक्रमण के बीच शिक्षा व्यवस्था को सुचारु करने के लिए शासन द्वारा भौतिक कक्षाओं के संचालन की अनुमति प्रदान कर दी गई है। जिसके चलते कॉलेजों और विवि में कक्षाओं का संचालन कोविड-19 के नियमानुसार किया जा रहा हैं, लेकिन कुछ दिनों से कॉलेज और विवि में आए दिन कोरोना संक्रमित लोग मिलने से हड़कंप मचा हुआ है।

जिस तरह कोरोना के लगातार केस निकल रहे हैं। उससे कही न कही छात्र-छात्राओं के बीच संकट उत्पन्न हो गया है कि वह अपने स्वास्थ्य को चुने या फिर भविष्य को तर्जी दे। क्योंकि बिना शिक्षा भविष्य सुधर नहीं सकता।

जिस तरह के हालात कोरोना की वजह से बने हुए है, उसे देखते हुए कही न कही स्वास्थ्य का बचाव करना भी बेहद जरूरी है। वहीं, कॉलेज प्रशासन अपने को बचाने के लिए पहले से ही समहमति पत्र मांग रहा है। ऐसे में छात्र-छात्राएं उलझन में देखे जा रहे हैं।

कोरोना के केस शहर में लगातार बढ़ते जा रहे हैं, वहीं शिक्षा विभाग भी लगातार कोरोना की चपेट में आ रहा है, जी हां! कॉलेजों के बाद अब कोरोना के केस लगातार सीसीएसयू में बढ़ते जा रहे हैं। ऐसे में अब सीसीएसयू में पूरी सर्तकता बरती जा रही है, विवि में लगातार बढ़ते केस को देखते हुए विवि में कोरोना की जांच का कैंप लगाने का फैसला किया गया है।

इसके चलते विवि के पूरे स्टॉफ का कोरोना टेस्ट आज से शुरू करवाया जाएगा। वहीं सात दिन तक लगातार विवि को सैनिटाइज भी किया जाएगा। वहीं, इस संबंध में रजिस्ट्रार सीसीएसयू धीरेंद्र वर्मा का कहना है कि कोरोना के बचाव में हमने यूनिवर्सिटी में आज से जांच कैम्प लगवाया है। इसमें सभी स्टाफ व स्टूडेंट आकर टेस्ट करवा सकते हैं।

आरजी कॉलेज दो दिन के लिए बंद

आरजी पीजी कॉलेज में दो शिक्षक व एक विद्यार्थी कोरोना पॉजिटिव निकले थे, इसके बाद से कॉलेज को सैनिटाइज किया गया है और कॉलेज प्राचार्या के निर्देशानुसार अब कॉलेज को दो दिन के लिए बंद कर दिया गया है। वहीं, कॉलेज में कोरोना के बढ़ते केस को देखते हुए सैनिटाइजेशन काम भी किया जा रहा है।

सीसीएसयू में आज लगेगा चेकअप कैंप

अभी दो दिन पहले सीसीएसयू कुलपति प्रो. एनके तनेजा के पॉजिटिव होने के बाद बृहस्पतिवार को उनकी पत्नी भी पॉजिटिव पाई गई थी। दोनों अस्पताल अस्पताल में भर्ती है। वहीं, विवि में रजिस्ट्रार के भाई और एक कर्मचारी के पॉजिटिव होने की भी सूचना है लगातार पॉजिटिव केस निकलने के बाद सीसीएसयू प्रशासन ने अब विवि में सभ्ी कर्मचारियों के टेस्ट करवाने का फैसला लिया है। ऐसे में आज से विवि में सभी का टेस्ट करवाया जाएगा। इसके लिए कैंप लगाया गया है। इसमें विद्यार्थी भी आकर भी अपना टेस्ट करवा सकते हैं।

कॉलेजों में निकले केस, भेजा नोटिस

कोविड-19 कंट्रोल रूम को लिंक के जरिए आॅनलाइन सूचना उपलब न कराने पर जिले के नौ कॉलेजों पर एफआईआर दर्ज होने की तैयारी है। एडीएम ने अभी गुरुवार को ही उच्च शिक्षा अािकारी को इस बाबत में पत्र लिखा है। कॉलेजों से स्पष्टीकरण मांगा जाए, प्रशासन ने अपने स्तर पर भी ऐसे कॉलेजों को नोटिस भेजा गया है जो कोरोना की जानकारी नहीं दे रहे थे। दरअसल, इससे संबंधित में एक कंट्रोल रूम बनाया गया है।

इसके नोडल अधिकारी डा. मेघराज सिंह को बनाया गया है। उनके ग्रुप लिंक पर कॉलेजों ने अपने यहां निकले केस की सूचना तक नहीं दी थी। इनमें शहीद मंगल पांडे माधवपुरम, राजकीय महिला कॉलेज खरखौदा, मेरठ कॉलेज, इस्माईल कॉलेज, सेंट जोजफ कॉलेज सराना, एएस कॉलेज मवाना, कृषक कॉलेज मवाना, संजय गांधी कॉलेज सरूरपुर व चौधरी शिवनाथ सिंह कॉलेज माछरा है। कॉलेजों ने कुछ कोरोना पॉजिटिव निकलने के बाद भी यहां से कोई जानकारी नहीं दी गई। ऐसे में इन कॉलेजों से तीन दिन में स्पष्टीकरण मांगा है। साथ ही प्रशासन ने नोटिस भेजा है। एफआईआर की तैयारी है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments