Sunday, July 21, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutशताब्दीनगर में अराजक तत्वों की दहशत, पलायन की चेतावनी

शताब्दीनगर में अराजक तत्वों की दहशत, पलायन की चेतावनी

- Advertisement -
  • लोगों ने एमडीए के ठेकेदार पर लगाया आरोप
  • देर रात को अनजान लोगों की बढ़ जाती है हलचल

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: मेरठ विकास प्राधिकरण की जमीन पर अराजक तत्वों ने कब्जा कर लिया है। स्थानीय लोगों ने इन लोगो की संदिग्ध गतिविधियों को लेकर दहशत में होने की बात कही है, जिसके बाद पुलिस मामले की जांच कर रही है। शताब्दीनगर के सेक्टर-4बी के रहने वाले लोगो का आरोप है कि मकान संख्या-121 व 122 के आगे एमडीए के चार खंडर नुमा मकान व पांच से छह सौ मीटर की जमीन पर एमडीए के ठेकेदार मेहराज नेअवैध रूप से कब्जा कर लिया है। इस जमीन पर अराजक तत्वों ने अस्थाई रूप से अपनी झुग्गियां बना ली है।

इन झुग्गियों में शाम ढलते ही बड़ी संख्या में आराजक तत्वों का जमावड़ा लग जाता है। यह लोग अजीब भाषा का प्रयोग करते हैं, जो यहां रहने वाले लोगों की समझ में नहीं आती है। स्थानीय लोगो का कहना है कि इन लोगों की गतिविधियां भी संदिग्ध प्रतीत हो रही है।

जिसको लेकर परतापुर थाने में शिकायत की गई है। पुलिस द्वारा कार्रवाई न होने पर स्थानीय लोगो नें अपने घर बेचकर पलायन करने की चेतावनी दी है। मामले को लेकर एसपी सिटी विनीत भटनागर का कहना है कि उनकी जानकारी में यह मामला नहीं है, अगर ऐसा है तो वह जांच कराएंगे।

कैन मैनेजर की हत्या का प्रयास

सकौती स्थित आईपीएल चीनी मिल में शुक्रवार को स्कूटी सवार दो युवकों ने गन्ना विभाग कार्यालय में घुसकर कैन मैनेजर की हत्या का प्रयास किया। हत्या के इरादे से कार्यालय में घुसे युवकों ने फायरिंग की। जिसमें, कैन मैनेजर की कुर्सी पर बैठे परचेश मैनेजर बाल बाल बच गए। बदमाश सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गए। घटना की जानकारी मिलने पर पहुंचे एसपी सिटी व थाना पुलिस ने सीसीटीवी कैमरे की फुटेज देख एक ही पहचान कर ली।

सकौती स्थित आईपीएल चीनी मिल में यतेंद्र पंवार गन्ना विभाग में कैन मैनेजर के पद पर तैनात है। शुक्रवार को वह अपने कार्यालय पर चीफ इंजीनियर यश सोलंकी व परचेश मैनेजर सुमेर सिंह के साथ बैठे थे। कैन मैनेजर दो मिनट के लिए कार्यालय से बाहर गए। इस दौरान परचेश मैनेजर सुमेर सिंह उनकी कुर्सी पर बैठ गए।

इसी बीच स्कूटी सवार दो युवक मिल में घुस आए और गन्ना विभाग कार्यालय में पहुंचते ही कैन मैनेजर की कुर्सी की ओर फायरिंग की। जिसमें सुमेर सिंह बाल बाल बच गए। इस घटना के बाद से अंदाजा लगाया जा रहा है कि युवक कैन मैनेजर यतेंद्र पंवार की हत्या करने के इरादे से आए थे।

फायरिंग की आवाज सुन चीनी मिल के अधिकारियों में दहशत फैल गई। आरोपी फायरिंग की घटना को अंजाम देने के बाद वहां से भाग निकले। परंतु, आरोपी चीनी मिल में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गए। अधिकारियों ने मामले की जानकारी दौराला पुलिस व एसपी सिटी विनीत भटनागर को दी।

घटना की जानकारी मिलने पर एसपी सिटी विनीत भटनागर व दौराला पुलिस चीनी मिल पहुंची। पुलिस ने घटना की जानकारी ली। इसके बाद पुलिस ने सीसीटीवी कैमरे की फुटेज को खंगाला। पुलिस ने फुटेज में दादरी प्रधान प्रवीण मोतला के साथ फायरिंग करने वाले दोनों युवकों को बात करते हुए देखा। कैन मैनेजर यतेंद्र पंवार की तहरीर पर पुलिस ने प्रधान प्रवीण मोतला को नामजद व दो अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
6
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments