Sunday, May 16, 2021
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsShamliसीएम योगी के दरबार में पहुंचा स्वास्थ्य विभाग की लीपापोती का मामला

सीएम योगी के दरबार में पहुंचा स्वास्थ्य विभाग की लीपापोती का मामला

- Advertisement -
0
  • विधायक तेजेंद्र निर्वाल ने फोन कर समस्याओं कराया अवगत
  • जिला अस्पताल में 24 वेंटिलेटर पर टेक्नीशियन की तैनाती नहीं

जनवाणी ब्यूरो |

शामली: जनपद में कोरोना संक्रमण को लेकर स्वास्थ्य विभाग की लीपापोती की पोल भाजपा के सदर विधायक तेजेंद्र निर्वाल ने प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को फोन कॉल कर खोल दी। विधायक ने साफ कहा कि वैसे तो जिला हॉस्पिटल में 24 वेंटिलेटर हैं लेकिन उनको आपरेट करने के लिए एक भी टेक्नीशियन नहीं है। इससे मरीजों और उनके तीमारदारों को बड़ी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है।

उन्होंने रेमडेसीवर और आक्सीजन की उपलब्धता में आ रही दिक्कतों से भी मुख्यमंत्री को अवगत कराया। दूसरी ओर, पूर्व सांसद हरपाल पंवार ने भी मुख्यमंत्री को फोन कर जनपद की लचर स्वास्थ्य सेवाओं से अवगत कराया है। भाजपा के सदर विधायक तेजेंद्र निर्वाल ने गुरुवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को फोन कॉल कर उनको शामली की कोरोना महामारी को लेकर लचर स्वास्थ्य सेवाओं से अवगत कराया गया।

विधायक तेजेंद्र निर्वाल ने मुख्यमंत्री आदित्यनाथ से फोन पर विस्तार से वार्ता की है। इस दौरान उन्होंने मुख्यमंत्री को शामली जिले के हालातों से अवगत कराते हुए बताया कि जिला हॉस्पिटल में 24 वेंटिलेटर की व्यवस्था है लेकिन उनको आॅपरेट करने के लिए टेक्नीशियन नहीं है। प्रशासन की ओर से टेक्नीशियन की तैनाती के लिए विज्ञापन निकाले गए लेकिन कोई टेक्नीशियन नहीं मिला।

टेक्नीशियन न होने से वेंटिलेटर संचालित नहीं हो पा रहे हैं जिससे मरीजों और उनके तीमारदारों को बड़ी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है। इसके अलावा विधायक तेजेंद्र निर्वाल ने मुख्यमंत्री से समय से रेमडेसीवर न मिलने और आक्सीजन की उपलब्धता में आ रही दिक्कत से अवगत कराया।

मुख्यमंत्री ने मामले की गंभीरता को देखते हुए तत्काल संबंधित अधिकारियों के साथ बैठक कर टेक्नीशियन उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। विधायक तेजेंद्र निर्वाल ने बताया कि शुक्रवार को एक बार फिर उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से वार्ता के लिए उनके आॅफिस में फोन कॉल की लेकिन अधिकारियों ने बताया कि वे महत्वपूर्ण मीटिंग में हैं। साथ ही, अधिकारियों ने बताया कि उनके द्वारा गुरुवार को जिन समस्याओं से मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया था, उनके समाधान के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए जा चुके हैं।

व्हाट्सएप ग्रुप पर छाया मुद्दा
नगर पालिका परिषद शामली के सभासद पति एवं भाजपा नेता रोबिन गर्ग की भाभी का तीन दिन पहले कोरोना संक्रमण के चलते असामयिक निधन हो गया। उससे पहले वे उनको शामली को कोविड-19 एल-2 अस्पताल ले गए थे लेकिन उनको बचाया नहीं जा सका। शुक्रवार को रोबिन गर्ग ने एक व्हाट्सएप ग्रुप के माध्यम से स्वास्थ्य विभाग की खामियों का कच्चा चिट्ठा खोल दिया। उन्होंने ग्रुप में पोस्ट कर गंभीर आरोप लगाए। एक भाजपा नेता द्वारा इस तरह के आरोप लगाए जाने शहर के एक बड़े वर्ग में हड़कंप मच गया। ग्रुप में जुडेÞ कुछ भाजपा नेता शासन-प्रशासन के बचाव में पोस्ट करते हुए नजर आए। इन सबको रोगिन गर्ग ने एक से बढ़कर एक खरे जवाब दिए।

पूर्व सांसद हरपाल पंवार ने भी की योगी से वार्ता

कैराना लोकसभा के पूर्व सांसद हरपाल पंवार ने शुक्रवार को प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को फोन कॉल कर उनको शामली में कोरोना महामारी के अलावा आक्सीजन और अन्य स्वास्थ्य सेवाओं की जानकारी दी। पूर्व सांसद ने मुख्यमंत्री ने कहा कि आपके नेतृत्व में इस चुनौती का सामना कर रहे हैं। प्रशासन पूरी मुस्तैदी से कार्य कर रहा है। इस मुख्यमंत्री योगी आदिथ्यना ने कहा कि संबंधित कदम उठाने के लिए अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं।

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments