Tuesday, September 21, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeUttar Pradesh NewsShamliपीएम-सीएम आवास की चाबी मिलने पर खिले चेहरे

पीएम-सीएम आवास की चाबी मिलने पर खिले चेहरे

- Advertisement -
  • जनपद में वर्ष 2021-22 में 539 मकान बनकर पूर्ण
  • सांसद प्रदीप चौधरी ने लाभार्थियों को सौंपी मकानों की चाबी

जनवाणी ब्यूरो |

शामली: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ग्राम्य विकास विभाग के अंतर्गत प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण तथा मुख्यमंत्री आवास योजना ग्रामीण के अंतर्गत बुधवार को 5़ 51 लाख आवास के लाभार्थियों को गृह प्रवेश/ चाबी वितरण किया।

कार्यक्रम का प्रदेश के विभिन्न जनपदों में वर्चुअल प्रसारण किया गया। इस दौरान शामली कलक्ट्रेट स्थित एनआईसी के सभाकक्ष में आयोजित कार्यक्रम को संबोध्ाित करते हुए मुख्य अतिथि कैराना सांसद प्रदीप चौधरी ने कहा कि पहले योजनाओं में बंदरबांट होता था परंतु आज केंद्र सरकार व प्रदेश सरकार की योजनाओं का लाभ अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्ति को लाभ मिल रहा है।

सांसद ने लाभार्थियों से शासन की मंशा के अनुसार जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ प्राप्त करने, बच्चों को शिक्षित करने और आत्मनिर्रभता के साथ आगे बढ़ने की बात कही। सांसद ने प्रत्येक विकास खंड से उक्त योजना के 2-2 लाभार्थियों को गृह प्रवेश के लिए चाबी सौंपी।

कार्यक्रम में जिलाधिकारी जसजीत कौर ने पूर्ण मकान वाले लाभार्थियों को गृह प्रवेश के लिए चाबी मिलने पर बधाई देते हुए कहा कि योजना के अंतर्गत जो पैसा दिया जा रहा है उससे बहुत ही सुंदर आवास आपको बनाना है। साथ ही, अधिकारियों को उक्त योजना का लाभ प्राथमिकता पर लाभार्थियों को देने के निर्देश दिए।

इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी शंभूनाथ तिवारी ने बताया कि वर्ष 2020-21 एवं 2021-22 में निर्मित प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण में 531 व मुख्यमंत्री आवास योजना ग्रामीण में 8 आवास पूर्ण हुए हैं। दोनों योजनाओं के पूर्ण आवासों पर 646 लाख की लागत आई है। इस अवसर पर जिला विकास अधिकारी प्रमोद कुमार सहित दोनों योजनाओं के लाभार्थी मौजूद रहे।

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments