Tuesday, January 25, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttarakhand Newsपूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने मदन कौशिक के बयान पर कही ये...

पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने मदन कौशिक के बयान पर कही ये बड़ी बात

- Advertisement -

जनवाणी ब्यूरो |

नई दिल्ली: पूर्व कैबिनेट मंत्री यशपाल आर्य और उनके पुत्र पूर्व विधायक संजीव आर्य के काफिले पर हुए हमले के मामले में सत्तारूढ़ पार्टी भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक का बयान ‘जैसा बोओगे, वैसा काटोगे’ कांग्रेस को नागवार गुजरा है। पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने इसे सीधे-सीधे धमकी देना बताकर निंदा की है। उन्होंने कौशिक से बयान वापस लेने की मांग की है।

सोमवार को पार्टी कार्यालय में आयोजित प्रेसवार्ता में पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा कि भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक का बयान निंदनीय और असंसदीय है।

जिसमें उन्होंने धमकी देने के अंदाज में कहा है कि यशपाल आर्य पार्टी छोड़कर गए हैं, इसलिए उनके साथ ऐसा हुआ है। उन्होंने कहा कि यदि कौशिक अपना बयान वापस नहीं लेते हैं तो कांग्रेस इसे आगामी चुनाव में मुद्दा बनाएगी और जनता के बीच लेकर जाएगी।

उन्होंने कहा भाजपा कार्यकर्ताओं की ओर से यशपाल के विरोध में पोस्टर लगाए गए हैं, जिसमें जातिवाचक शब्दों का प्रयोग किया गया है। यह सत्ता का दुरुपयोग है। पूर्व सीएम ने कहा कि उन्होंने इस मामले में मुख्यमंत्री, डीजीपी और प्रमुख सचिव गृह से फोन पर बात की है, यशपाल आर्य की सुरक्षा की भी मांग की गई है।

उन्होंने आरोप लगाया कि इस हमले से जुड़े लोग अवैध खनन से जुड़े हैं, जो भाजपा के संरक्षण में हो रहा है। उन्होंने राज्य में अवैध खनन पर रोक लगाने की मांग की।

कहा कि इससे राज्य में अपराध बढ़ रहे हैं। पत्रकार वार्ता में प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल के साथ सह प्रभारी दीपिका पांडेय सिंह, मीडिया सलाहाकर सुरेंद्र कुमार, सुनील राठी, राजेश चमोली, गरीमा दसौनी, संग्राम सिंह पुंडीर आदि उपस्थित थे।

आधी योजनाएं कांग्रेस के जमाने की गिना गए मोदी : हरीश

पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देहरादून में जिन 18 हजार करोड़ रुपये की योजनाओं का लोकार्पण, शिलान्यास किया, उनमें से साढ़े नौ हजार करोड़ रुपये की योजनाएं कांग्रेस के जमाने में शुरू की गई थीं। कहा कि ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल परियोजना का काम मनमोहन सरकार में शुरू हो गया था।

आज जिस ऑल वेदर रोड के नाम पर भाजपा वाहवाही लूट रही है, दरअसल ऐसी कोई योजना ही नहीं है। यह परियोजना भी मनमोहन सरकार में चारधाम यात्रा सुधार मार्ग के नाम से शुरू हो गई थी।

तभी इस परियोजना की डीपीआर बनने के साथ स्वीकृति भी हो गई थी। उसी दौरान काम भी शुरू हो गया था। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के जमाने में शुरू की गई योजनाओं का भाजपा की ओर से श्रेय लेना गलत है।

गैरसैंण के 25 हजार करोड़ रुपये कहां गए

पूर्व सीएम हरीश रावत ने कहा कि तत्कालीन मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने गैरसैंण के विकास के लिए 25 हजार करोड़ रुपये की घोषणा की थी। जबकि तीन दिन पहले पीएम मोदी ने इस योजना का कहीं जिक्र नहीं किया। इसका मतलब साफ है कि यह घोषणा भी हवा हवाई ही थी।

उन्होंने इसे गैरसैंण और उत्तराखंड का अपमान बताया। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी ने टनकपुर-बागेश्वर रेल लाइन का भी कहीं जिक्र नहीं किया। अब भाजपा मसूरी से टिहरी तक सुरंग ले जाने की बात तो कर रही है, लेकिन इस सुरंग को बनाने वाले औजार किस फैक्ट्री में बन रहे हैं, इसका भी कहीं अता-पता नहीं है।

पूर्व सीएम हरीश रावत ने कहा कि भाजपा सरकार को गैरसैंण जाने में ठंड लग रही है। लेकिन वह आगमी नौ और 10 दिसंबर को देहरादून में विधानसभा सत्र के दौरान गैरसैंण में उपवास कर सरकार को आईना दिखाने का काम करेंगे।

पूर्व सीएम हरीश रावत ने भाजपा की रैली में पीएम मोदी के संबोधन के दौरान राज्यपाल की उपस्थिति पर सवाल उठाए हैं। उन्होंने कहा कि किसी राजनीतिक रैली में राज्यपाल की उपस्थिति संविधान की अवहेलना है।

गैरसैंण पर कांग्रेस नौटंकी कर रही है : कौशिक

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने कहा कि गैरसैंण पर कांग्रेस को नौटंकी नहीं करनी चाहिए। गैरसैंण पर उसने कुछ नहीं किया, जबकि भाजपा सत्ता में आई तो उसने गैरसैंण को ग्रीष्मकालीन राजधानी का दर्जा दिया।

उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार में राज्य के लिए ताबड़तोड़ विकास योजनाओं से कांग्रेस में बौखलाहट है और वह विकास योजनाओं को सकारात्मक रूप में लेने के बजाय तमाम तरह के सवाल जवाब में उलझ गई है।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस के सात साल के कार्यकाल में नेशनल हाईवे में कुल 646 करोड़ खर्च हुए, जबकि भाजपा के कार्यकाल में 12786 करोड़ खर्च किए गए।

ऑलवेदर रोड और ऋषिकेश कर्णप्रयाग रेल परियोजना ऐतिहासिक कार्य हैं, जो भाजपा की देन हैं लेकिन कांग्रेस को इन परियोजनाओं को लेकर भी दिक्कत है कि भाजपा को श्रेय क्यों मिल रहा है।

भाजपा सरकार में केदारनाथ का भव्य स्वरूप निखर कर सामने आया तो गैरसैंण को ग्रीष्मकालीन राजधानी का दर्जा मिला।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 18 हजार करोड़ की योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास कर गए। राज्य में कनेक्टिविटी बेहतर होने से पर्यटन और उद्यमिता के बेहतर अवसर होंगे।

राज्य के 10 वर्षों का रोडमैप भाजपा ने तैयार किया है और अगले पांच वर्षों में राज्य आदर्श राज्य के तौर पर देश के पटल पर होगा। उन्होंने कहा कि भाजपा सेवा कर रही है और कांग्रेस महज स्वार्थ की राजनीति कर रही है।

राज्य हित में बेहतर कार्यों को राजनीतिक चश्मे से देखने के बजाय कांग्रेस को सकारात्मक रूप से उनका स्वागत करना चाहिए। क्योंकि भाजपा ने विकास किया है और कांग्रेस इतने साल महज राजनीति ही करती रही।

आज उत्तराखंड में सड़कों के साथ ही स्वास्थ्य क्षेत्र में भी भाजपा के पास अनेक उपलब्धियां हैं। कांग्रेस डरी है और उसे कुछ सूझ नहीं रहा है कि वह अब क्या करे? उन्होंने कहा कि भाजपा विकास के लिए समर्पित है और कांग्रेस महज भ्रामक तथ्य परोसकर अपना वजूद बचाने की कोशिश में जुटी है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments