Friday, July 30, 2021
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutकोविड से हो रही मौतों पर शासन गंभीर

कोविड से हो रही मौतों पर शासन गंभीर

- Advertisement -
  • कमिश्नर ने कोविड के नियंत्रण पर की वर्चुअल बैठक
  • कोविड आॅक्सीजन आईसीयू और वेंटिलेटर बेड बढ़ायें

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: कोरोना के कारण लगातार हो रही मौतों को लेकर शासन गंभीर है। कमिश्नर ने शनिवार को मंडल के सभी डीएम और सीएमओ की वर्चुअल मीटिंग ली और सख्त निर्देश दिये कि कोरोना से हो रही मौतों को रोकने के लिये युद्धस्तर पर प्रयास किये जाएं। प्राइवेट अस्पतालों को कोविड अस्पताल बनाए जाएं और आवश्यकता पड़ने पर बागपत के अस्पतालों में खाली पड़े बेडों का प्रयोग किया जाए। कमिश्नर ने निजी प्रयोगशालाओं को अधिक से अधिक टेस्ट करने को कहा जाए।

कमिश्नर सुरेन्द्र सिंह ने कहा कि अस्पतालों के लिए आॅक्सीजन की निरंतर आपूर्ति सुनिश्चित कराई जाए। नियमित आपूर्तिकर्ताओं के अतिरिक्त जनपद के उद्योगपतियों से समन्वय कर उनकी उद्योग इकाइयों में स्पेयर स्टॉक से आॅक्सीजन सिलेंडर लिए जाएं। गौतमबुद्धनगर और गाजियाबाद में मेडिकल स्टाफ की कमी को लेकर शासन को पत्र लिखा गया है, पत्र की प्रति मांगी गई, ताकि कमिश्नर स्तर से भी शासन को लिखा जा सके।

निगरानी समितियों, सर्विलांस टीम, सैनिटाइजेशन दल सहित सभी फ्रंटलाइन वर्कर्स को कोरोना से बचाव संबंधी मास्क, ग्लब्स, पीपीई किट आदि सामग्री की कमी ना होने पाए। पंचायत निर्वाचन के दौरान भी कोरोना गाइडलाइन का सख्ती से पालन कराया जाए। मेरठ में फेस मास्क न पहनने पर चालान की कार्रवाई मंडल में सबसे कम रही है, कार्रवाई में तेजी लाई जाए।

पुलिस की सख्ती, साप्ताहिक पैठ पर लगाई पाबंदी

कोरोना संक्रमण के बढ़ते केस को लेकर शहर पुलिस ऐक्शन मूड़ में आ गई है। जिसके चलते कंकरखेड़ा पुलिस ने खड़ौली रोड पर शनिवार को लगने वाली साप्ताहिक पैठ को बंद करा दिया। यही नहीं पुलिस ने सब्जी विक्रेताओं को भी दूर बनाकर सब्जी बेचने की हिदायत दी। जिसके चलते सब्जी विक्रेताओं ने रोहटा रोड पर अपनी रेहड़ी लगाई। जिस कारण शाम के समय रोहटा रोड पर जाम की स्थिति बनी रही।

जिले में लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के केस को लेकर जिला प्रशासन व पुलिस विभाग पूरी तरह अलर्ट हो चुका है। प्रशासन ने जहां नाइट कर्फ्यू की चेतावनी दे रखी है, वहीं अब सरकार के आदेश पर रविवार का संपूर्ण लॉकडाउन भी घोषित कर दिया।

बता दें कि रोहटा रोड से खड़ौली को जाने वाले मार्ग पर प्रत्येक शनिवार को पैठ लगती है। पहले की तरह शनिवार को भी पैठ लगाई गई, लेकिन जब इस बारे में कंकरखेड़ा थाना पुलिस को पता चली तो तत्काल वहां पर भारी पुलिस बल पहुंचा और साप्ताहिक पैठ पर पाबंदी लगाते हुए सब्जी विक्रेताओं को छोड़कर अन्य दुकानदारों को वहां से भगा दिया।

हालांकि इस दौरान कुछ दुकानदारों ने विरोध भी किया, लेकिन पुलिस की सख्ती के आगे किसी की एक नहीं चली। वहीं पुलिस ने सब्जी व फल विक्रेताओं को भी दूरी बनाकर अपना माल बेचने की हिदायत दी। साथ ही कहा कि यदि किसी भी रेहड़ी पर भीड़ लगी तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। हालांकि रोहटा रोड पर इस दौरान घंटों तक जाम की स्थिति बनी रही।

भगत सिंह मार्केट में निकाला पैदल मार्च

प्रशासन की सख्ती के बाद भी बाजारों में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन न किए जाने के चलते सीओ कोतवाली अरविंद चौरसिया ने आरएएफ के साथ हापुड़ अड्डा स्थित भगत सिंह मार्केट में पैदल मार्च निकाला। साथ ही दुकानदारों व ग्राहकों को हिदायत दी कि यदि कोई भी बिना मास्क के दिखाई दिया तो उनके खिलाफ सख्ती से कार्रवाई की जाएगी। इस दौरान सीओ कोतवाली ने बच्चों व ग्राहकों को मास्क भी वितरित किए।

एमडीए ने अपनी योजनाओं में कराया सैनिटाइजेशन

कोरोना से निपटने के लिए मेरठ विकास प्राधिकरण (एमडीए) भी जुट गया है। प्राधिकरण उपाध्यक्ष मृदुल चौधरी ने प्राधिकरण योजनाओं को सैनिटाइज करने की जिम्मेदारी एक्सईएन धीरज सिंह को सौंपी है। उनकी अगुवाई में प्राधिकरण की एक टीम ने प्रथम दिन रक्षापुरम कॉलोनी में सैनिटाइज करने का अभियान चलाया। करीब दर्जन भर से ज्यादा कर्मचारियों ने मशीन लेकर गली-गली, पार्कों व घरों में सैनिटाइजेंशन का काम किया।

पूरा दिन टीम इसी में जुटी रही। एक्सईएन धीरज सिंह ने बताया कि यह अभियान जारी रहेगा। एक-एक कर तमाम प्राधिकरण की कालोनियों में छिड़काव किया जाएगा। कॉलोनी में कोरोना पॉजिटिव मरीज निकले हैं, उन घरों में भी सैनिटाइजेशन कराया जा रहा है। इसमें जनता का भी उन्हें सहयोग मिल रहा है।

मेडिकल में टेलीमेडिसिन ओपीडी शुरू

संक्रमण के चलते बंद की गयी मेडिकल ओपीडी के बाद मरीजों की सहूलियत के लिए प्राचार्य डा. ज्ञानेन्द्र कुमार ने टेलीमेडिसिन ओपीडी शुरू की है। यह जानकारी मेडिकल प्रशासन के प्रवक्ता डा. दिनेश राणा ने दी है। उन्होंने बताया कि जो टेलीमेडिसिन शुरू की गयी हैं उनमें मेडिसिन, सर्जरी, गायनिक, बाल रोग, आर्थोपैडिक्स, मानसिक रोग, नेत्र, दंत रोग, टीबी एंड चेस्ट, चर्म एवं गुप्त शामिल हैं। डा. ललिता को नोडल अधिकारी बनाया गया है। असुविधा होने पर उनके मोबाइल नंबर 7579592766 पर भी संपर्क किया जा सकता है।

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments