Wednesday, July 24, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh Newsलखनऊ / आस-पासअपर मुख्य सचिव नवनीत सहगल ने की रैंकिंग फ्रेमवर्क तैयार करने की...

अपर मुख्य सचिव नवनीत सहगल ने की रैंकिंग फ्रेमवर्क तैयार करने की बैठक

- Advertisement -

जनवाणी ब्यूरो |

लखनऊ: एक जनपद एक उत्पाद कार्यक्रम के तहत सभी 75 जिलों में चयनित उत्पादों की रैंकिंग होगी। इस संबंध में अपर मुख्य सचिव, सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम नवनीत सहगल के साथ क्वालिटी काउंसिल ऑफ इण्डिया के साथ रैंकिंग फ्रेमवर्क तैयार किये जाने हेतु बैठक हुई। बैठक में निर्धारित किया गया कि जनपदों को ओडीओपी उत्पादों की मांग बढ़ाने, कौशल विकास करने, रोजगार सृजित करने, उत्पादों की गुणवत्ता अवसंरचना को मजबूत बनाने इत्यादि के आधार पर वन स्टार, टू स्टार, थ्री स्टार, फोर स्टार, फाइव स्टार पॉच श्रेणी की रैंकिंग प्रदान की जायेगी। यह रैंकिंग समय-समय पर जनपदों द्वारा उक्त मापदंडों में किये गये सुधार तथा साथ ही साथ ओडीओपी उत्पादों में नवाचार इत्यादि के तहत अद्यतन की जायेगी।

अपर मुख्य सचिव ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा एक जनपद एक उत्पाद कार्यक्रम की समीक्षा के दौरान निर्देश दिया गया कि एक जनपद एक उत्पाद कार्यक्रम को अब 4 वर्ष से अधिक हो गये है तथा प्रत्येक जनपद ने सम्बन्धित ओडीओपी उत्पादों में काफी प्रगति भी की है। ऐसे में प्रदेश स्तर पर इकाईयों की गुणवत्ता को और बढ़ाने तथा साथ ही साथ प्रदेश के जनपदों में ओडीओपी उत्पादों की प्रगति के लिए स्वस्थ प्रतिस्पर्धा प्रोत्साहित करने हेतु जनपदों एवं उनके उत्पादों की रैंकिंग के निर्देश दिये गये ताकि उन्हें प्रेरित व सम्मानित किया जा सके।

सहगल ने बताया कि ओडीओपी कार्यक्रम की यह पहल जनपदों को ओडीओपी उत्पादों के विकास, सम्बन्धित जनपदों में बेहतर रोजगार, तुलनात्मक एवं प्रतिस्पर्धात्मक भावना के साथ नवाचार के पथ पर अग्रसर करने को प्रेरित करेगी। साथ ही राज्य के 1 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था के लक्ष्य को प्राप्त करने में ओडीओपी उत्पादों की भूमिका को सुदृढ़ करेगी।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments