Sunday, June 13, 2021
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutमुस्लिम क्षेत्रों में नहीं हो रहा लॉकडाउन का कोई पालन

मुस्लिम क्षेत्रों में नहीं हो रहा लॉकडाउन का कोई पालन

- Advertisement -
0
  • दिनभर खुली रहती है दुकानें और लोगों का लगा रहता है जमघट

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए जिला प्रशासन ने पूरे शहर में लॉकडाउन लगा रखा है। वहीं लॉकडाउन का पालन कराने के लिए प्रशासनिक अधिकारियों समेत पुलिस विभाग भी दिनरात सड़कों पर ड्यूटी दें रहा है, लेकिन पुलिस की इस सख्ती के बावजूद केवल आधे शहर में ही लॉकडाउन का पालन किया जा रहा है। जबकि बाकी शहर पूरी तरह अनलॉक है।

हां! हम बात कर रहे है शहर के मुस्लिम क्षेत्र की, जहां पूरा दिन सब्जी से लेकर किराना, मीट, साइकिल पंचर व अन्य सामग्री की दुकानें खुली रहती है। यही नहीं इस क्षेत्र में लोगों का आवागमन भी अनलॉक की तरह हो रहा है।

जिला प्रशासन ने लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराने के लिए शहर में पुख्ता इंतजाम कर रखे है। जिसके लिए पुलिस विभाग ने शहर में थाने, चौकी व चौराहों समेत 66 जगहों पर लाउडस्पीकर व 110 वाहनों से लोगों को लॉकडाउन का पालन करने के लिए जागरूक किया जा रहा है।

हालांकि लॉकडाउन का आधे शहर में बाखूबी पालन किया जा रहा है। लेकिन मुस्लिम क्षेत्र में पहले दिन से ही लॉकडाउन की धज्जियां उड़ाई जा रही है। लिसाड़ी गेट, कोतवाली व ब्रह्मपुरी थाना क्षेत्र की बात करें तो यहां ज्यादातर दुकानें दिनभर खुली रहती है।

बाइक पंचर से लेकर बीड़ी, गुटखा व चाय के खोखों समेत मीट, सब्जी, किराना व अन्य दुकानें दिनभर खोली जा रही है। यही नहीं ईद से पहले तो कपड़ें, जूते व सैलून की दुकानें भी आधा शटर गिराकर खोली गई है। इसी के साथ इन क्षेत्रों में लोगों का आवागमन भी अनलॉक की तरह ही रहता है।

जबकि शहर के बाकी हिस्सों में लॉकडाउन का पालन सख्ती से किया जा रहा है और अधिकांश लोग जरुरी काम से ही अपने घरों से बाहर निकल रहे है।

इन क्षेत्रों में पुलिस की सख्ती भी नाकाम हो रही है। जबकि शहर पुलिस हापुड़ रोड पर हाशिमपुरा चौकी, हापुड़ अड्डा चौराहा व एल ब्लॉक चौकी पर बैरियर लगाकर चेकिंग कर रही है। इसके बावजूद लोगों का आवागमन बरकरार चल रहा है।

इमरजेंसी सेवा की दुकानें खोलने के हैं निर्देश

जिला प्रशासन ने लॉकडाउन की घोषणा करने के बाद इमरजेंसी की दुकानें दूध, ब्रेड, सब्जी, फल व किराना की दुकानें खोलने के लिए प्रतिदिन सुबह तीन घंटे आठ बजे से 11 बजे समेत खोलने की अनुमति दी थी। इसी के साथ दवा की दुकानों को पहले की तरह ही खोले जाने के निर्देश दिए गए थे। लेकिन कुछ क्षेत्रों में जिला प्रशासन के आदेशों को दरकिनार करते हुए अनलॉक की तरह यह सभी दुकानें खोली जा रही है।

बिना वजह घर से बाहर निकलने की इजाजत नहीं

लॉकडाउन की अवधि में मेडिकल इमरजेंसी व शव यात्रा को छोड़कर किसी भी व्यक्ति को बिना वजह घर से बाहर निकलने की इजाजत नहीं है। इसके बावजूद लोग बिना वजह सड़कों पर घूम रहे है। सुबह व शाम के समय हापुड़ व दिल्ली रोड के हालात ऐसे रहते है कि अनलॉक की तरह वाहनों का आवागमन होता है। ऐसे में पुलिस भी इन लोगों के खिलाफ चालान काटने के अलावा कुछ नहीं कर रही है।

पुलिस ने काटे 1441 के चालान

शुक्रवार को शहर पुलिस ने चेकिंग के दौरान धारा 144 का उल्लंघन करने वाले 16 लोगों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए उनसे 7286 रुपये का जुर्माना वसूल किया। बिना मास्क लगाने वाले 1413 लोगों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए 113279 रुपये वसूल किए। इसी के साथ लॉकडाउन का उल्लंघन करने वाले 12 लोगों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए 10951 रुपये का जुर्माना वसूल किया गया।

मास्क न लगाने पर 10 हजार का काटा चालान

लॉकडाउन में मास्क न लगाने पर दूसरी बार पकड़े जाने पर कोतवाली पुलिस ने एक युवक का 10 हजार रुपये का चालान काटा है। हालांकि इससे पहले पुलिस ने युवक का एक हजार रुपये का चालान काटा था। कोतवाली थाना इंस्पेक्टर आशुतोष ने बताया कि लॉकडाउन का पालन कराने के लिए थाना पुलिस क्षेत्र में जगह-जगह चेकिंग अभियान चला रही है।

ताकि बिना वजह घरों से बाहर घूमने वालों व मास्क न लगाने वालों के खिलाफ सख्ती से कार्रवाई की जा सकें। उन्होंने बताया कि कुछ दिनों पहले मोहल्ला ठठेरवाड़ा के रहने वाले फैजइयाब पुत्र सलाउद्दीन का बिना मास्क के पकड़े जाने पर एक हजार रुपये का चालान काटा गया था। लेकिन वह शुक्रवार को दोबारा से भी बिना मास्क के मिलने पर 10 हजार रुपये का चालान काटा है।

लॉकडाउन में सक्रिय हुआ हनी ट्रैप गिरोह

एक व्यापारी से फेसबुक पर दोस्ती कर हनी ट्रैप गिरोह के सदस्यों ने व्यापारी से वीडियो कॉल कर अश्लील वीडियो बना ली। गिरोह के सदस्य अब व्यापारी को वीडियो वायरल करने की धमकी देकर मोटी रकम की मांग कर रहे है। व्यापारी ने मामले की जानकारी साइबर सेल में दी है। साइबर सेल प्रभारी का कहना है कि आरोपी को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

थाना लालकुर्ती क्षेत्र के कसेरुखेड़ा के रहने वाले एक व्यापारी ने बताया कि कुछ दिनों पहले उसे फेसबुक पर एक युवती की फ्रेंड रिक्वेस्ट आई थी। दोनों की फेसबुक मैसेंजर पर बातें शुरू हो गई। इसी बीच युवती ने अपना नंबर व्यापारी को दे दिया। आरोप है कि दो दिन पहले देर रात युवती ने वाट्सएप वीडियो कॉल कर व्यापारी की अश्लील वीडियो रिकार्ड कर ली।

उसके बाद युवती ने व्यापारी से वीडियो वायरल करने की धमकी देकर रुपयों की मांग की है। व्यापारी का कहना है कि दो दिनों तक वह शर्म की वजह से तनाव में रहा। एक मित्र की सहायता से उसने साइबर सेल में अज्ञात आरोपितों के खिलाफ तहरीर दी है।


What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments