Thursday, October 21, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeUttar Pradesh NewsSaharanpurपुराने वादों का निस्तारण प्राथमिकता के आधार पर किया जाए: मंडलायुक्त

पुराने वादों का निस्तारण प्राथमिकता के आधार पर किया जाए: मंडलायुक्त

- Advertisement -

जनवाणी ब्यूरो |

सहारनपुर: मण्डलायुक्त लोकेश एम ने मंडल के मुजफ्फर नगर जनपद की जानसठ तहसील का निरीक्षण कर अधिकारियों के साथ बैठक करते हुए निर्देश दिये कि राजस्व वादों का मानकों के अनुरूप निस्तारण किया जाये तथा तीन से पांच वर्ष तक के लम्बित राजस्व वादों में शीघ्र तिथि लगायें ताकि लम्बित प्रकरणों का निस्तारण शीघ्र कराया जाये।

उन्होने खतौनी रजिस्टर, आर 6 रजिस्टर, सम्पूर्ण समाधान दिवस रजिस्टर, फाइलों को मुख्यालय लाने व ले जान तथा रिकार्ड रूम में जमा कराने एवं रिकार्ड रूम में जाने वाली फाईल के साथ लगने वाले फार्मेट का भी गहनता से अवलोकन किया। पत्रावलियों के अमल दरामद की जानकारी प्राप्त की।

मण्डलायुक्त ने आडिट आपत्तियों के निस्तारण के सम्बन्ध में निर्देश दिये कि आपत्तियों का निस्तारण शीघ्र कराया जाये अगर एक ही तरह की आपत्तियां बार बार आ रही है तो ऐसी आपत्तियों की पुनरार्वृत्ति न होने पाये वही गलतिया बार बार न होने पाये।

उन्होने एसडीएम को निर्देश दिये कि इस सम्बन्ध में सम्बधित अधिकारी कर्मचारियों को आदेश जारी कर अवगत कराया जाये। उन्होने कहा कि तालाबों से अतिक्रमण हटाया जाये और उनकी सफाई कराई जाये ताकि बरसात का पानी तालाबों में जमा हो सके।

एसडीएम व तहसीलदार वाद निस्तारण का स्वयं लक्ष्य निर्धारित करें उसी अनुरूप वादों को निपटायें। उन्होनें कहा कि पुराने वादों को वरीयता देते हुए केस निपटायें इससे जनता में भी विश्वास की भावना जागृत होगी। मण्डलायुक्त ने मतस्य पालन के लिए आवंटित पट्टे, बडे बकायादारों की सूची का निरीक्षण कर वसूली में तेजी लाने के निर्देश दिये। उन्होने कहा कि बड़े बकायादारों के नाम लिखवाये जाये। उन्होने निर्देश दिये कि वारिसों के नाम खतौनी में तय समय में दर्ज होने चाहिए।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments