Saturday, December 4, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeUttar Pradesh NewsMeerutविपक्ष फैला रहा भ्रम, किसानों के हित में कृषि कानून

विपक्ष फैला रहा भ्रम, किसानों के हित में कृषि कानून

- Advertisement -
  • केंद्रीय मंत्री डाॅ रमेश पोखरियाल निशंक ने की प्रेसवार्ता
  • बोले, किसानों की दोगुनी आय करना है पीएम मोदी का लक्ष्य

जनवाणी ब्यूरो |

हरिद्वार: केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने आज कृषि कानून को लेकर हरिद्वार में प्रेसवार्ता की। निशंक ने कहा कि जब से देश मे मोदी सरकार सत्ता में आई है तक से यह किसानों का भला कर रही है। उन्होंने कहा कि इसी क्रम में सरकार तीन कृषि कानून लेकर आई है ताकि किसानों आर्थिक स्थिति ठीक की जा सके।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का एक ही लक्ष्य है कि किसानों की आय दोगुनी हो। विपक्ष किसानों में इस कृषि कानून को लेकर भ्रम पैदा कर रही है। विपक्ष का आरोप है कि सरकार एमएसपी और मंडी व्यवस्था ख़त्म करने जा रही है जबकि कृषि कानून में कहीं भी ऐसा प्रावधान नहीं है।

कांग्रेस के नेता किसान कृषि कानून को बिना पढ़े लोगों में राजनीतिक लाभ के लिये भ्रम पैदा कर रही है। कांग्रेस ने देश किसानों के लिये कभी कुछ नहीं किया और अब जब मोदी सरकार देश के हर तबके के साथ किसानों को भी आर्थिक रूप से मज़बूत करने का काम कर रही है तो कांग्रेस झूठ बोल कर भ्रम पैदा कर रही है।

किसानों के साथ अगर कोई अनुबंध करता है तो उससे किसानों ज़मीनों को अधिकृत नहीं कर सकता है, किसान जब चाहे अनुबंध रद्द कर सकता है। कृषि कानून में प्रावधान है कि निश्चित समय सीमा के अंदर किसानों को भुगतान सुनिश्चित किया गया है। जबकि कांग्रेस किसानों को ज़मीन अधिग्रण की झूठी अफवाह फैला रही है।

निशंक ने कहा कि जब से मोदी सरकार सत्ता में आई है किसानों को फसलों का उचित दाम दिया जा रहे, यह ऑन रिकॉड है कोई भी देख सकता है। कांग्रेस ने राजनीतिक लाभ के लिये झूठ और भ्रम पैदा की है इसके लिये कांग्रेस को देश से माफी मांगनी चाहिये।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments