Monday, September 20, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeINDIA NEWSपूर्व एनकाउंटर स्पेशलिस्ट प्रदीप शर्मा को एनआईए ने हिरासत में लिया

पूर्व एनकाउंटर स्पेशलिस्ट प्रदीप शर्मा को एनआईए ने हिरासत में लिया

- Advertisement -

जनवाणी ब्यूरो |

नई दिल्ली: एंटीलिया केस और मनसुख मर्डर मामले में नए-नए खुलासे हो रहे हैं। आज मुंबई के पूर्व एनकाउंटर स्पेशलिस्ट और शिवसेना नेता प्रदीप शर्मा के घर पर एनआईए छापेमार कार्रवाई कर रही है। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने प्रदीप शर्मा को हिरासत में ले लिया है और उनसे पूछताछ की जा रही है।

बताया जा रहा है कि प्रदीप शर्मा एनआईए के रडार पर काफी समय से चल रहे थे, लेकिन जांच एजेंसी के पास प्रदीप शर्मा के खिलाफ पूख्ता सबूत नहीं थे। अब एनआईए के पास ठोस सबूत मिले हैं ।

उसके बाद मुंबई के अंधेरी के जेपी नगर इलाके में भगवान भवन बिल्डिंग की छठी मंजिल पर स्थित प्रदीप शर्मा के आवास पर एनआईए की टीम इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस की जांच कर रही है। साथ ही इस मामले में पूछताछ कर रही है। एनआईए के साथ सीआरपीएफ की टीम भी मौजूद है। इसमें कुछ महिला अधिकारी भी शामिल हैं।

प्रदीप शर्मा जांच एजेंसी के रडार पर कैसे आए?

बताया जा रहा है कि मनसुख के मर्डर से कुछ दिन पहले सचिन वझे और एक शख्स के बीच अंधेरी इलाके में स्थित एक बैठक हुई थी,  प्रदीप शर्मा भी इसी इलाके में रहते हैं। जांच एजेंसी को आशंका है कि मीटिंग सचिन वझे और शर्मा के बीच हुई।

इसके अलावा एक सीसीटीवी फुटेज में सचिन वझे और विनायक शिंदे बांद्रा वर्ली सी लिंक पर कार में बैठे दिखाई दिए। एजेंसी का मानना है कि ये दोनों अंधेरी में शर्मा से मिलने ही जा रहे थे। क्योंकि मनसुख हिरेन को जिस नंबर से कॉल कर बुलाया गया, उसका आखिरी लोकेशन भी अंधेरी का जेबी नगर था।

सचिन वाझे, शिंदे समेत कई अधिकारियों से प्रदीप शर्मा के रहे हैं संपर्क

सचिन वाझे पर एंटीलिया केस का मुख्य सूत्रधार होने का आरोप है। 15 मार्च को राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने निलंबित पुलिस अधिकारी सचिन वाझे को गिरफ्तार कर लंबी पूछताछ की थी। जिसमें सचिन वाझे ने कई खुलासे किए थे। पूर्व एनकाउंटर स्पेशलिस्ट प्रदीप शर्मा और सचिन वाझे की नजदीकी किसी से छिपी नहीं है।

प्रदीप शर्मा पर कई आरोप लगे हैं। इसके अलावा  मनसुख हिरेन की हत्या के केस में गिरफ्तार पूर्व कॉन्स्टेबल विनायक शिंदे भी प्रदीप शर्मा का करीबी रहा है। वहीं हाल ही में संतोष सेल्लार और आनंद जाधव की गिरफ्तारी हुई थी। उसमें प्रदीप शर्मा का भी नाम सामने आया। बताया जा रहा है प्रदीप शर्मा का संतोष सेल्लार से गहरी दोस्ती थी।

प्रदीप शर्मा पर पहले भी लग चुके हैं आरोप

प्रदीप शर्मा 1983 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं। मुंबई में यह एनकाउंटर स्पेशलिस्ट के तौर पर जाने जाते थे। हालांकि इन पर पहले भी इनका अंडरवर्ल्ड के साथ तार जुड़े हुए थे। छोटा राजन के गुर्गे लखन भैया का फर्जी एनकाउंटर करने का आरोप प्रदीप शर्मा, विनायक शिंदे समेत पूरी टीम पर लगा था। इस मामले में शर्मा को सस्पेंड भी किया गया था, लेकिन बाद में वे कोर्ट से बरी हो गए थे।  2019 में प्रदीप शर्मा शिवसेना के टिकट पर नालासपोरा से चुनाव भी लड़ चुके हैं।

क्या एंटीलिया मामला

बता दें कि 25 फरवरी को मुकेश अंबानी के घर एंटीलिया के बाहर विस्फोटक से भरी एक स्कॉर्पियो बरामद हुई थी, जिसमें 20 जिलेटिन की छड़ें और एक धमकी भरा नोट मिला था।  इस मामले में वाहन मालिक मनसुख हिरण की मौत हो चुकी है। इस मामले की जांच एनआईए कर रही है।


What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments