Wednesday, May 25, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -spot_img
HomeUttar Pradesh NewsMeerutअक्षय तृतीया पर एक ही दिन में हुआ करोड़ों का व्यापार

अक्षय तृतीया पर एक ही दिन में हुआ करोड़ों का व्यापार

- Advertisement -
  • सराफा बाजार में दिनभर खुली रहीं दुकानें, खरीदे चांदी के लक्ष्मी-गणेश, 100 करोड़ से अधिक का व्यापार

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: अक्षय तृतीया के मौके पर सराफा बाजार में रिकॉर्ड तोड़ खरीदारी हुई। करीब 100 करोड़ से अधिक का व्यापार होने की उम्मीद जताई जा रही है। सराफाओं की मानें तो सुबह से ही यहां ग्राहकों की भीड़ लगनी शुरू हो गई थी जो कि शाम तक नहीं टूटी। मेरठ समेत अन्य शहरों से भी लोग यहां सराफा बाजार में खरीदारी करने पहुंचे। ईद पर हर बार बाजार बंद होता है, लेकिन इस बार अक्षय तृतीया ईद के ही दिन पड़ी तो बाजार को भी खोला गया जिसके चलते खूब खरीदारी हुई।

बता दें कि अक्षय तृतीया के मौके पर सोना चांदी खरीदना शुभ माना जाता है और इस बार यह दिन ईद के दिन पड़ा। ईद के मौके पर हर बार सराफा बाजार बंद रहता था, लेकिन इस बाद मंगलवार को ईद के दिन भी बाजार को खोला गया। अक्षय तृतीया पर बाजार में खूब खरीदारी हुई। जो लोग इस दिन खरीदारी करना शुभ मानते हैं उन्होंने अपनी पसंद के जेवरात समेत अन्य चीजें खरीदी जो सोने और चांदी से निर्मित थी।

मेरठ बुलियन ट्रेडर्स एसोसिएशन के महामंत्री विजय आनंद अग्रवाल ने बताया कि हब बार अक्षय तृतीया पर व्यापार अच्छा होता है। इसके चलते बाजार को खोला गया और उसका लाभ भी हुआ। लोगों ने बाजार में जमकर खरीदारी की। लोगों ने सोने और चांदी से निर्मित जेवरात खूब खरीदे।

सोने-चांदी के लक्ष्मी-गणेश की रही डिमांड

सोना चांदी व्यापार संघ के अध्यक्ष संतकुमार वर्मा ने बताया कि बाजार में सुबह से ही ग्राहकों की भीड़ लगी रही। लोगों ने अपनी पसंद और जरूरत के हिसाब से खरीदारी की। कुछ लोगों ने अधिक खरीदारी की तो कुछ ने कम, लेकिन अक्षय तृतीया पर सोना-चांदी से निर्मित जेवरात का खरीदना शुभ माना जाता है।

इसलिये लोग कुछ न कुछ लेने जरूर पहुंचे। सोने-चांदी से बने लक्ष्मी गणेश की भी अधिक डिमांड रही। इनके दाम एक हजार रुपये से शुरू थे, जोकि हर किसी की जेब के माफिक रहे। इससे ऊपर वजन के हिसाब से दाम बढ़ते जाते हैं। सभी ने अपनी पसंद के हिसाब से खरीदारी की।

शादियों को लेकर हुई जेवरात की खरीदारी

शादियों का सीजन चल रहा है। ऐसे में लोगों ने हालांकि पहले ही जेवरात बनवाकर रखे थे, लेकिन अक्षय तृतीया के चलते जेवरात खरीदे। उन्हें अक्षय तृतीया पर ही खरीदारी करनी थी। शास्त्रीनगर निवासी अमित कुमार की बहन की शादी मंगलवार को ही थी। उन्होंने बताया कि उनके यहां आज के दिन खरीदारी करना शुभ माना जा रहा था। जिसके चलते उन्होंने शादी आज होने के बावजूद आज ही जेवरात खरीदे। उधर और भी कई ऐसे ग्राहक थे जिनके यहां दिन के दिन शादी थी और उन्होंने अक्षय तृतीया पर खरीदारी की।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -
spot_img
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments