Monday, December 6, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeUttar Pradesh NewsMeerutयुवक की गला दबाकर हत्या, शव खेत में फेंका मृतक के चाचा...

युवक की गला दबाकर हत्या, शव खेत में फेंका मृतक के चाचा ने अज्ञात युवकों के खिलाफ दी तहरीर, सूचना पर पुलिस ने शव पोस्टमार्टम को भेजा

- Advertisement -

जनवाणी संवाददाता |

मवाना: मवाना-कूड़ी कमालपुर से नगर में आ रहे युवक की गला दबाकर हत्या कर दी और शव को उनके खेत के समीप सड़क किनारे फेंक दिया। खेत में शव पड़ा देख चाचा ने मामले की जानकारी पुलिस एवं परिजनों को दी। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर दौड़ पड़ी और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए मोर्चरी भेज दिया। मृतक के चाचा ने अज्ञात हमलावरों के खिलाफ थाने में तहरीर दी है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है।

थाना क्षेत्र के गांव कुड़ी कमालपुर निवासी राहुल वर्मा (28) पुत्र नरेश काफी समय से नगर क्षेत्र में किराये पर रहता था। दोपहर बाद राहुल वर्मा अपने गांव से मवाना आ रहा था तभी हमलावरों ने अकेला देख राहुल को घेर लिया और गला दबाकर हत्या कर दी। हत्या के बाद शव को परिवार के सदस्य चाचा भोपाल के खेत में फेंक दिया। सुबह होने पर खेत पर पहुंचे चाचा भोपाल का भतीजे राहुल वर्मा का शव पड़ा देख पैरों की जमीन खिसक गई और मामले की जानकारी परिजनों एवं पुलिस को दी।

हत्या की सूचना मिलते ही थाना प्रभारी विष्णु कौशिक मयफोर्स मौके पर पहुंचे और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए मोर्चरी भेज दिया। पुलिस ने आसपास के लोगों से घटना की जानकारी ली, लेकिन कोई सुराग नहीं लग सका। मृतक के चाचा भोपाल ने अज्ञात युवकों के खिलाफ थाने में तहरीर दी है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है। इंस्पेक्टर विष्णु कौशिक का कहना है कि तहरीर मिल गई है, रिपोर्ट दर्ज कराई जाएगी।

डिप्रेशन के शिकार व्यक्ति ने लाइसेंसी रिवाल्वर से गोली मारकर की आत्महत्या

मेरठ: परतापुर थाना क्षेत्र के मोहकमपुर फेज-दो स्थित बादशाह ई रिक्शा फैक्ट्री में पहुंचे मैट्रियल सप्लायर मनीष गांधी उर्फ टिंकू निवासी पर्ल रेजिडेंसी ने फैक्ट्री के वेटिंग केबिन में पहुंचकर अपनी लाइसेंसी रिवाल्वर से गोली मारकर आत्महत्या कर ली। गोली की आवाज सुनकर वेटिंग केबिन में पहुंचे बादशाह ई रिक्शा फैक्ट्री के मालिक नितिन शर्मा ने यह जानकारी तुरंत पुलिस को दी। सूचना के बाद मौके पर पहुंची परतापुर पुलिस और विधि विज्ञान प्रयोगशाला की टीम ने वही रिवाल्वर हाथ में मिलने से आत्महत्या को संदिग्ध माना जा रहा है दोनों ही बिंदुओं पर पुलिस जांच में जुट गई है।

पुलिस ने बताया कि मनीष गांधी अक्सर अपने दोस्त नितिन से मिलने फैक्ट्री पर आते रहते थे। दोपहर ढाई बजे के करीब मनीष दोस्त के पास आये और वेटिंग केबिन में बैठ गये। बाद में इसने दोस्त के साथ खाना खाया और फिर लाइसेंसी रिवाल्वर से गोली मार ली। गोली लगते ही नितिन ने तुरंत फोन करके पुलिस को सूचना दी। पुलिस जब मौके पर आई उस वक्त मनीष कुर्सी पर लहुलुहान बैठा हुआ था और उसके हाथ में रिवाल्वर थी।

एएसपी विवेक यादव ने बताया कि घर वालों ने बताया कि मनीष डिप्रेशन का शिकार था और उसकी आंखों की रोशनी कम हो रही थी। इससे भी परेशान था। सुसाइड की सूचना मिलते ही परिजन फैक्ट्री में आये। मां का रो रोकर बुरा हाल था और उनको परिवार के लोग मुश्किल से संभाल पा रहे थे। मृतक के दो बेटियां है। पिता की मौत से वे सदमें में पहुंच गई थी। मौके पर मौजूद लोगों ने बताया कि सबकुछ इतनी जल्दी हुआ कि कोई कुछ भी नहीं कर पाया। फैक्ट्री मालिक भी मनीष को अस्पताल लेकर नहीं गए। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया है।

नलकूप पर पड़ा मिला शव

खरखौदा: बरानपुर के जंगल में एक नलकूप पर व्यक्ति का शव पड़ा मिला। सूचना पर पहुंची पुलिस ने जेब से मिली डायरी के आधार पर मृतक की शिनाख्त मेरठ निवासी के रूप में हुई। पुलिस ने शव का पंचनामा भर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। खरखौदा निवासी ओमकार पुत्र भगीरथ की जमीन बहरामपुर के जंगल में है। मंगलवार देर श्याम ओमकार के नलकूप पर एक व्यक्ति का शव पड़ा होने की सूचना मिली।

सूचना पर थाना प्रभारी संजय शर्मा पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंच गए और मृतक की तलाशी ली। तलाशी के दौरान जेब से मिली डायरी के अनुसार मृतक की शिनाख्त मेरठ निवासी ब्रह्मसिंह (35) पुत्र रामजीलाल मूल निवासी सरावा हापुड़ के रूप में हुई। पुलिस ने परिजनों को सूचना दे दी। सूचना पर सीओ किठौर एएसपी चंद्रकांत मीणा भी घटनास्थल पर पहुंचे। वहीं, शव का पंचनामा भर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

शराब पीने का आदी था ब्रह्मसिंह

ब्रह्मसिंह दो वर्ष पूर्व मेरठ की नई बस्ती में पत्नी संगीता व चार बच्चों सहित रहता था। नशे का सेवन करने से परिवार में क्लेश रहने लगा। सोमवार को पत्नी संगीता ने ब्रह्मसिंह के बड़े भाई राजवीर उर्फ टीटू को फोन कर बताया कि शराब के नशे में बच्चों व उसके साथ मारपीट कर रहा हैं। भाई द्वारा फोन पर धमकाने के बाद ब्रह्मसिंह ने भाई से कल का दिन आखिरी होने की बात कही। मंगलवार सुबह करीब 9:00 बजे साइकिल से घर से निकला था।

पिता का भी दो वर्ष से कुछ पता नहीं

मृतक के भाई राजवीर ने बताया कि उसके पिता भी शराब पीने के आदी थे और दो वर्ष पूर्व शराब के नशे में कहीं निकल गए थे। जिसका आज तक पता नहीं लग पाया।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -
- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments