Wednesday, April 21, 2021
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutपत्नी को गले लगा रोया हत्यारोपी, बोला-अपना ख्याल रखना

पत्नी को गले लगा रोया हत्यारोपी, बोला-अपना ख्याल रखना

- Advertisement -
0
  • अवैध संबंध के कारण तहेरे भाई की कर दी थी हत्या, पुलिस ने भेजा जेल

जनवाणी संवाददाता |

कंकरखेड़ा: पत्नी से अवैध संबंधों के चक्कर में तहेरे भाई को कुल्हाड़ी से काटकर मौत के घाट उतारने वाले हत्यारोपी को पुलिस ने अदालत में पेश कर जेल भेज दिया है। जेल जाने से पहले हत्यारोपी पत्नी के गले लगाकर खूब रोया और बोला अपना और बच्चों का भी ख्याल रखना।

पुलिस ने आरोपी को सलाखों के पीछे धकेल दिया है। आरोपी हत्या का कुछ पछतावा भी कर रहा है, लेकिन उसका कहना है कि पत्नी से संबंधों को स्वीकार नहीं कर सकता था। जवाहरपुरी निवासी भीम पुत्र ज्ञानचंद का क्षत-विक्षत शव बुधवार को रेलवे स्टेशन के निकट बनी खंडहरनुमा कॉलोनी के एक मकान में प्रथम तल पर मिला था।

हत्यारे ने भीम की हत्या कुल्हाड़ी और र्इंट से ताबड़तोड़ हमला कर की थी। कंकरखेड़ा इंस्पेक्टर तपेश्वर सागर ने इस घटना का दो घंटे में खुलासा कर डाला। इंस्पेक्टर तपेश्वर सागर ने मृतक भीम के चचेरे भाई आशु उर्फ कालू को इस मामले में गिरफ्तार कर लिया था। पुलिस पूछताछ में उसने बताया की दुल्हैंडी के दिन आशु ने भीम का मोबाइल चेक किया था।

जिसमें आशु की पत्नी के भीम के साथ आपत्तिजनक फोटो थे। उसने पुलिस पूछताछ में बताया की फोटो देखने के बाद उसके क्रोध की सीमा न रही। उसने भीम की हत्या का प्लान तैयार किया और सोमवार की शाम को चरस पिलाने के बहाने उसे रेलवे कॉलोनी के खंडहरनुमा मकान की छत पर ले गया। वहां पर पहले नशा किया और उसके बाद वहां पर पहले से ही हत्या के लिए रखी गई कुल्हाड़ी से सिर में ताबड़तोड़ वार करके भीम की हत्या कर दी गई। भीम के सिर में र्इंट से भी वार किया गया था।

इसके बाद हत्यारोपी आशु ने उसका मोबाइल अपने कब्जे में ले लिया और कुल्हाड़ी भी दूर फेंक दे थी। इंस्पेक्टर तपेश्वर सागर ने बताया कि हत्यारोपी की निशानदेही पर हत्या में प्रयोग की गई हथोड़ी और र्इंट भी बरामद कर ली है। उसकी निशानदेही पर मोबाइल भी बरामद कर लिया गया। जिसमें आशु की पत्नी और भीम के आपत्तिजनक फोटो थे।

अदालत में जाने से पूर्व आशु अपनी पत्नी से मिला तो उसे गले लगाकर खूब रोया और कहने लगा अपना और बच्चे का भी ख्याल रखना। हत्यारोपी आशु से जब इस संबंध में बात की गई तो उसने कहा कि तेहेरे भाई की हत्या का उसे बहुत पछतावा है, लेकिन पत्नी के साथ रिश्तो को किसी भी स्थिति में वह स्वीकार नहीं कर सकता था। वह अपनी पत्नी को बहुत प्यार करता है। उसने कहा कि यह संबंध स्वीकार करने योग्य नहीं थे, इसी कारण हत्या कर दी।

जिसके कारण युवक की हत्या उसे मिली क्लीनचिट

लोगों में यही चर्चा का विषय बना रहा कि जिस महिला से अवैध संबंध के कारण एक युवक को दर्दनाक तरीके से मौत के घाट उतार दिया गया। क्या उसके खिलाफ कोई अभियोग नहीं बनता? महिला की मर्जी से दोनों के बीच अवैध संबंध बने। जो करीब डेढ़ साल से बताए जा रहे हैं। ऐसी स्थिति में परिवार के रिश्ते कलंकित हो गए, लेकिन कानूनी प्रक्रिया में महिला को मुजरिम नहीं ठहराया गया।

लोगों का यही सवाल था कि आखिर इस मामले में महिला के खिलाफ भी कार्रवाई की जानी चाहिए थी। वही चर्चा यह भी रही कि जब अवैध संबंध के कारण आशु ने भीम की तो हत्या कर दी और पत्नी के गले लग कर रो रहा था। कहीं हत्या करने का षड्यंत्र तो नहीं रचा था। जिसमें महिला को शामिल कर लिया गया। परिजनों का कहना था कि दोनों परिवार में कई बार पूर्व में भी झगड़ा हुआ था।

वेब सीरीज फिल्म से कलंकित हो रहे रिश्ते, तोड़ी जा रही मर्यादाएं

वेब सीरीज की शार्ट फिल्मों ने रिश्ते कलंकित करने की नींव भारतीय समाज में डाल दी है। रिश्ते कलंकित हो रहे हैं और मर्यादाए तोड़ी जा रही है। इन वेब सीरीज की शॉर्ट फिल्मओं में सभी पवित्र रिश्ताओं की मर्यादाओं को ताक पर रख दिया है, लेकिन इनको रोकने के लिए कोई भी सामाजिक संगठन या अपने आपको भारतीय संस्कृति का रक्षक कहने वाला कोई सामने नहीं आ रहा है।

हालात यह हो जायेंगे कि जिस तरह से जवाहरपुरी में देवर भाभी के बीच अवैध सम्बंध होने से यह हत्या हुई है। समाज में घटनाएं और अधिक बढ़ जाएगी। समय रहते इन वेब सीरीज की शॉर्ट फिल्मों को बंद करने के लिए प्रयास करना होगा। आजकल सोशल मीडिया पर वेब सीरीज की अश्लील शार्ट फिल्में प्रचलन में अधिक हो रही है। इन फिल्मों का किशोरावस्था के बच्चों पर और समाज में दूषित प्रभाव पड़ रहा है।

हालात यह हो गए हैं की फेसबुक या अन्य सोशल साइटों पर मर्यादाएं ताक पर रखकर अश्लील शब्दों का प्रयोग होता है और अधिकतर पवित्र रिश्ता को कलंकित किया जा रहा है। इस संबंध में प्रशासन को ध्यान देना चाहिए। समाजसेवी उमा शर्मा का कहना है कि इन वेब सीरीज की शार्ट फिल्मों पर तत्काल रोक लगनी चाहिए। इससे भारतीय समाज को काफी नुकसान हो रहा है। भाजपा नेता और समाजसेवी दुष्यंत रोहटा का कहना है कि इसके लिए विधायक और प्रशासनिक अधिकारियों से शिकायत की जाएगी जिससे इन वेब सीरीज की फिल्मों पर रोक लगाई जा सके।

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments