Saturday, April 17, 2021
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutमुठभेड़ में 25 हजारी दो बदमाश गिरफ्तार

मुठभेड़ में 25 हजारी दो बदमाश गिरफ्तार

- Advertisement -
0
  • शुक्रवार देर रात सरधना-नानू मार्ग पर मुठभेड़, तमंचे, बाइक व लूट की रकम की बरामद
  • मुठभेड़ में दोनों बदमाशों के पैर में लगी पुलिस की गोली, तीसरा फरार

जनवाणी संवाददाता |

सरधना: शुक्रवार देर रात सरधना-नानू मार्ग पर पुलिस और अपाचे सवार बदमाशों में मुठभेड़ हो गई। बदमाशों ने फायरिंग की तो पुलिस ने भी गोली चलाई। पुलिस की गोली लगने से दोनों बदमाश घायल हो गए, जबकि तीसरा भागने में कामयाब रहा।

जांच करने पर पता चला कि दोनों बदमाशों पर 25-25 हजार का इनाम घोषित है। पुलिस ने उनके पास से दो तमंचे, कारतूस, बाइक व लूट की रकम भी बरामद की। जांच करने पर पता चला कि इन्हीं बदमाशों ने सरधना में डेयरी संचालक से ढाई लाख की लूट की थी। दोनों बदमाशों पर विभिन्न थानों में तीन दर्जन से अधिक मुकदमे दर्ज हैं।

शुक्रवार की रात पुलिस क्षेत्र में गश्त कर रही थी। देर रात पुलिस ने सरधना-नानू मार्ग पर अपाचे पर सवार तीन संदिग्ध युवकों को देखा। पुलिस ने उन्हें रोकने की कोशिश की तो आरोपी जंगल की ओर भागने लगे। पुलिस ने घेराबंदी की तो बदमाशों ने फायरिंग शुरू कर दी। जवाब में पुलिस ने भी फायरिंग की।

पुलिस की गोली लगने से दो बदमाश घायल हो गए, जबकि तीसरा भागने में कामयाब रहा। तलाशी लगने पर पुलिस ने उनके पास से दो तमंचे, चार कारतूस, बाइक व 43 हजार रुपये की नकदी बरामद की। जांच करने पर पता चला कि करीब डेढ़ माह पूर्व इन बदमाशों ने भलसोना गांव के डेयरी संचालक से ढाई लाख की लूट की थी। इन बदमाशों के खिलाफ विभिन्न थानों में करीब तीन दर्जन से अधिक मुकदमे दर्ज हैं।

पुलिस ने घायलों को उपचार के लिए सीएचसी में भर्ती कराया। पकड़े गए आरोपियों के नाम सोनू सैनी पुत्र रामकिशन निवासी ग्राम महल थाना इंचौली तथा ताज मोहम्मद उर्फ ताजू पुत्र इमामुद्दीन निवासी महमदपुर हापुड़ हैं। फरार आरोपी का नाम साहिल पता अज्ञात बताया गया है। इन तीनों में सोनू सैनी के खिलाफ सबसे अधिक 31 मुकदमे दर्ज हैं।

ठेकेदारी के लिए सरेआम फायरिंग से हड़कंप, दो दबोचे

नौचंदी के भीड़ वाले गांधी आश्रम गढ़ रोड इलाके में शनिवार की रात बाइक सवार दो बदमाशों ने आॅटो की ठेकेदारी के लिए दहशत फैलाने को अचानक फायरिंग कर दी। बाइक सवार बदमाशों द्वारा की गयी फायरिंग से इस भीड़भाड़ वाले इलाके में भगदड़ मची गयी, लेकिन ट्रैफिक पुलिस के एक टीआई समेत चान कर्मियों ने जान पर खेलकर दोनों बदमाशों को दबोच लिया।

पुलिस वालों को देखकर बदमाशों के हाथ पांव फूल गए। जिस तमंचे से फायर किया था, उसे झाड़ियों में फेंक कर फरार होने का प्रयास किया गया, लेकिन दबोच लिए गए। पकडेÞ गए बदमाशों की पहचान मुंडाली निवासी जयसिंह उर्फ जग्गा व उसके साथी प्रिंस निवासी जाहिदपुर खरखौदा के रूप में हुई है।

जग्गा एक इंटरनेशल पहलवान का भाई है। पहले भी इसकी कई करतूतें सामने आ चुकी हैं, जिनके चलते यह जेल भी गया। होटल सम्राट पैलेस में भी यह हंगामा कर चुका है। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार जग्गा व प्रिंस बाइक से पुलिस लाइन की ओर से तेजी से गढ़ रोड गांधी आश्रम की ओर आए।

माना जा रहा है कि सिविल लाइन एरिया में किसी जगह इन्होंने यहां आने से पहले जमकर शराब पी है। गांधी आश्रम चौराहे के समीप पहुंचते ही अचानक फायरिंग कर दी। जिस वक्त बाइक सवार बदमाश दहशत फैला रहे थे, उसी दौरान सरकारी जिप्सी से ट्रैफिक पुलिस के टीआई अनिल कुमार मिश्रा, चालक ओम कुमार, कांस्टेबल पंकज व कुलतार सिंह वहां से गुजर रहे थे।

तमंचा थामे बदमाशों को देखकर ये चारों तेजी से उनकी ओर लपके। उन्हें आते देखकर बदमाशों ने तमंचा फेंक दिया। अनिल कुमार मिश्रा व उनके साथियों ने दोनों को दबोच लिया। इतना ही नहीं दबोचने के बाद बदमाशों से ही उनके द्वारा फेंका गया तमंचा भी तलाश कराया।

तमंचा भी बरामद कर लिया गया। इस बीच सूचना मिलते ही वहां नौचंदी पुलिस भी पहुंच गयी। लोगों ने बताया कि आॅटो की ठेकेदारी के लिए किसी को डराने धमकाने के लिए फायरिंग की गयी है। हालांकि इंस्पेक्टर नौचंदी प्रेमचंद शर्मा का कहना है कि दबोचे गए बदमाशों से पूछताछ की जा रही है।

इनके खिलाफ गंभीर धाराओं में मुकदमा लिखा जाएगा। जग्गा व उसके साथी को पकड़ने वाले टैÑफिक पुलिस के स्टाफ की एसपी सिटी विनीत भटनागर व एसपी ट्रैफिक जितेन्द्र श्रीवास्तव ने पीठ थपथपाई है। लोगों ने भी इस साहसिक कार्य के लिए पुलिस कर्मियों की प्रशंसा की है।

पुलिस हिरासत से युवती को खींचने का प्रयास, हंगामा

थाना नौचंदी में कुछ लोगों ने पुलिस हिरासत से युवती को खींचने का प्रयास किया। इसको लेकर हंगामा व धक्का मुक्की हुई। ऐसा करने वाले पुलिस वालों से भी उलझ गए। दरअसल युवती को पुलिस ने बरामद किया था। बयान दर्ज कराने के लिए शनिवार को युवती को लेकर पुलिस वाले कोर्ट जा रहे थे। तभी कुछ रिश्तेदार थाना नौचंदी आ धमके और युवती को पुलिस हिरासत से खींचने का प्रयास किया।

हंगामा कर रहे परिजनों ने युवती को पुलिस हिरासत से खींचने का प्रयास किया। वहीं, दारोगा और महिला कांस्टेबल में युवती को ले जाने को लेकर बहस हो गई। इंस्पेक्टर ने मामला शांत कराया। नौचंदी के जयदेवी नगर निवासी युवती के परिजनों ने करीम नगर के शहजाद पर युवती को अगवा करने का आरोप लगाया था। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर युवती और आरोपित को बरामद कर लिया।

शनिवार को युवती के परिजन थाने पहुंच गए। पुलिस युवती को कोर्ट में बयान दर्ज कराने ले जा रही थी। तभी उन्होंने उसे खींचने का प्रयास किया। इसी बीच दारोगा युवती को कोर्ट तक ले जाने के लिए महिला कांस्टेबल की स्कूटी पर बैठाने लगे। महिला कांस्टेबल ने इन्कार कर दिया।

इस पर दारोगा और महिला कांस्टेबल में भी बहस हो गई। दारोगा युवती को अपनी बाइक पर कोर्ट ले जाने लगे। इसी बीच इंस्पेक्टर प्रेमचंद शर्मा ने युवती को दारोगा की बाइक से उतारकर पुलिस की जीप में कोर्ट भेजा। हालांकि कोर्ट में युवती के बयान दर्ज नहीं हो सके। इंस्पेक्टर का कहना है कि युवती के बयानों के आधार पर ही मुकदमे में आगे की कार्रवाई की जाएगी।

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments