Friday, March 5, 2021
Advertisment Booking
Home Uttar Pradesh News Bijnor आठ सूत्रीय मांगों को लेकर अनिश्चितकालीन धरने पर सफाई कर्मचारी

आठ सूत्रीय मांगों को लेकर अनिश्चितकालीन धरने पर सफाई कर्मचारी

- Advertisement -
0
  • सफाई कर्मचारियों ने ठप्प की नगर की सफाई व्यवस्था

जनवाणी संवाददाता |

चांदपुर: कोरोना काल में जान जोखिम में डालकर कार्य करने वाले कर्मचारियों का रोका गया मानदेय दिलाने के साथ ही आठ सूत्रीय मांगों को लेकर नगर पालिका के सफाई कर्मचारियों ने सफाई व्यवस्था ठप कर अनिश्चितकालीन धरना शुरू कर दिया है।

स्थानीय नगरपालिका के सफाई कर्मचारियों ने शनिवार को पालिका में पहुंचकर उत्तर प्रदेश राज्य सफाई कर्मचारी संघ के तत्वाधान में सफाई व्यवस्था चौपट करने का ऐलान करते हुए अनिश्चितकालीन धरना शुरू कर दिया । धरने पर बैठे सफाई कर्मचारियों ने बताया कि कोरोना काल में नगर में कीटनाशक के छिड़काव के लिये ठेके पर 16 कर्मचारी लगाए गए थे।

वही दस अन्य कर्मचारियों को भी सनेटाइजेसन के लिए काम पर लगाया गया था । कोरोना काल में जान जोखिम में डालकर सफाई कार्य वेब सैनिटाइजेशन करने वाले सफाई कर्मियों के मानदेय का पालिका द्वारा अभी तक भुगतान नहीं किया गया है।

भुगतान न मिलने से सफाई कर्मचारियों के सामने रोजी-रोटी का संकट खड़ा हो गया है। कर्मचारियों का यह भी कहना था की आउटसोर्सिंग ठेकेदारों द्वारा कर्मचारियों का उत्पीड़न किया जाता है इसके चलते आउटसोर्सिंग ठेका व्यवस्था बंद की जाए। हटाए गए कर्मचारियों को तुरंत काम पर लिया जाए। कोरोना काल में सैनेटाइजेसन करने वाले 10 कर्मचारियों तथा 16 ठेका कर्मचारियों का रुका हुआ मानदेय तुरंत दिलाया जाए।

इसी के साथ सफाई कर्मचारियों के रुके हुए एरियर का भुगतान दिलाया जाए। सफाई कर्मचारियों को 5 वर्षों की ठंडी एवं गर्म वर्दी दिलाई जाये। धरने पर बैठे सफाईकर्मी सफाई कर्मचारियों की संख्या बढ़ाए जाने व शिक्षित सफाई कर्मचारियों की पदोन्नति किये जाने की मांग भी कर रहे थे।

धरने पर बैठे कर्मचारियों ने दो टूक कहा कि नगर पालिका प्रशासन उनकी बिल्कुल भी सुनवाई नहीं कर रहा है। एक माह पूर्व भी सफाई कर्मचारियों ने रुका हुआ मानदेय दिलाने के लिए धरना दिया था उस समय अधिकारियों ने तीन दिन के भीतर भुगतान दिलाने का आश्वासन देकर धरना तो समाप्त करा दिया था, लेकिन आज तक भुगतान नहीं मिला है।

आंदोलनकारियों ने कहा कि सफाई कर्मचारियों का शोषण किसी भी दशा में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। जब तक सफाई कर्मचारियों की मांगे पूरी नहीं होंगी तब तक नगर की सफाई व्यवस्था पूरी तरह से ठप रखी जाएगी। धरने पर बैठने वालों में राजू, गोपाल, राकेश कुमार, अजय बाल्मीकि, अभिषेक, राहुल कुमार, आकाश, पंकज, मनोज नौशाद, लोकेंद्र, अंकित, सतेन्द्र, दीपक कुमार, उमेश पवार, रवि मदान, सरजू बाल्मीकि, प्रमोद सैलानी, दीपक मदान, विकास कुमार आदि कर्मचारी मौजूद रहे।

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments