Wednesday, January 19, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsShamliवाल्मीकि रामायण संस्कृति की अनमोल धरोहर: संगल

वाल्मीकि रामायण संस्कृति की अनमोल धरोहर: संगल

- Advertisement -
  • भगवान वाल्मीकि जयंती पर धूमधाम से निकाली शोभायात्रा

जनवाणी ब्यूरो |

शामली: गुरुवार को महर्षि वाल्मीकि जनकल्याण समिति के तत्वावधान में मौहल्ला नंदू प्रसाद स्थित प्राचीन वाल्मीकि मंदिर से भगवान वाल्मीकि की भव्य शोभायात्रा निकाली गई। शोभायात्रा का शुभारंभ निवर्तमान नगर पालिका चेयरमैन अरविन्द संगल एवं भाजपा प्रदेश कार्यकारणी सदस्य हरबीर मलिक ने संयुक्त रूप से फीता काट कर एवं भगवान वाल्मीकि के चित्र के समक्ष दीप प्रज्जवलित करके किया।

पूजा अर्चना मंदिर के महंत पंडित महेंद्र भूषण धवन ने संपन्न कराई। इस अवसर पर निवर्तमान चेयरमैन अरविंद संगल ने कहा कि रामायण रचियता, त्रिकालदर्शी आदिकवि, विज्ञान विशारद, संगीतेश्वर भगवान वाल्मीकि ने संसार को रामायण के रूप में अमूल्य धार्मिक ग्रंथ प्रदान किया है।

उन्होंने कहा कि हम सबकों भगवान वाल्मीकि अदर्शों का अनुसरण करना चाहिए। भाजपा नेता हरबीर मलिक ने कहा कि वाल्मीकि समाज मेहनतकश समाज है। आपने कोरोना काल मे अपनी चिंता ना कर, देश के लोगों को महामारी से बचाने के लिए अपनी अमूल्य सेवाएं प्रदान की। भाजपा के द्वारा बड़ा बाजार में शोभायात्रा का भव्य स्वागत किया गया।

जिसमें मुख्य रूप से भाजपा सदर विधायक तेजेंद्र निर्वाल, विवेक प्रेमी, डा. अनुराग शर्मा, संदीप नामदेव समेत अनेक भाजपा पदाधिकारी शामिल रहे। इसके अलावा महर्षि वाल्मीकि कुटी आश्रम, शास्त्री स्वीट्स, भव्य एम्पोरियम एवं बजरंग दल के द्वारा शोभायात्रा का भव्य स्वागत किया गया।

इस अवसर पर मंदिर समिति के अध्यक्ष जितेंद्र चंद्रा, महासचिव मनीष गहलोत, उपाध्यक्ष हंसराज पारचा, राजन पाहिवाल, कोषाध्यक्ष सुचित्र पाहिवाल, दीपक बिड़ला, संदीप, नीरज चंदेल, सुनील गहलोत, श्रवण केसला, सुनील चंद्रा, प्रमोद बहोत्तम, गौरव चंद्रा, राजू डारिया, पुनीत पालीवाल, नवीन कंडेरा, कार्तिक आदि उपस्थित रहे।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments